2 लाख के इनामी बदमाश अमित बाबरिया को एसटीएफ ने मथुरा में मार गिराया

0
428

मथुरा। यूपी के 2 लाख के इनामी कुख्यात अपराधी अनिल उर्फ अमित बाबरिया (30 वर्ष) को एसटीएफ एवं यूपी पुलिस ने नोयडा-आगरा यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे मौत के घाट उतार दिया। बदमाश पर मथुरा अलीगढ़-पलवल जनपद में इनाम घोषित था।
सोमवार की देर शाम नौहझील थाना क्षेत्र करीब 07 बजे नोयडा-आगरा यमुना एक्सप्रेस-वे के बाजना कट के निकट अचानक बदमाशों एवं एसटीएफ-पुलिस को संयुक्त मुठभेड़ में 2 लाख के इनामी कुख्यात बदमाश अनिल उर्फ अमित बाबरिया की मुठभेड़ के दौरान मौत की नींद सुला दिया। पुलिस की टीम मृत बदमाशों को लेकर जिला चिकित्सा लेकर आयी जिसे चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। शव को अस्पताल की मोर्चरी में रख लिया गया है। वरिष्ठ अधिकारी घटना स्थल पर रवाना हो गये हैं। जिला चिकत्सालय पर बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद था।

बताया जाता है कि मृतक बदमाश हाईवे पर लूट करने वाले एक्सल गैंग के शातिर अपराधियों के साथ मथुरा के थाना नौझील इलाके में बाजना कट आर्केडियन पब्लिक स्कूल के पास सर्विस रोड पर सोमवार सांय 7 बजे के करीब पुलिस- और एसटीएफ की नोयडा यूनिट के साथ हुई। जिसमें अमित उर्फ अनिल बाबरिया पुत्र इनामी बदमाश अमित पुत्र रमेश सिंह निवासी आजाद नगर फर्रुखाबाद एक्सल गैंग का सरगना बताया जाता है। जिसका उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान के अलावा दिल्ली एनसीआर में हाईवे पर जघन्य वारदात करना आम बात थी । बताया जाता है बुलंदशहर हाईवे पर हुई दुष्कर्म की वारदात में भी इस गैंग का हाथ था। बल्कि 22-23 जनवरी 2020 को नोएडा से मथुरा लौट रहे मथुरा के डीएम सर्वज्ञराम मिश्र परिवार सहित को यमुना एक्सप्रेस-वे पर नौहझील थाना क्षेत्र के आवाखेड़ा के निकट लूटने का प्रयास किया था। जबकि अन्य दो व्यापारियों को बदमाश लूट ले जाने में सफल रहे थे। इस घटना से शासन-प्रशासन में हड़कम्प मच गया। जिसमें मृतक बदमाश पर मथुरा पुलिस ने 1 लाख का इनाम घोषित किया था। जबकि लूट में शामिल 50 हजार के इनामी अन्य बदमाश को पूर्व में एसटीएफ गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। मृतक बदमाश को 2 गोलियों सीने में लगी हैं पुलिस टीम उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंची जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

यमुना एक्सप्रेस वे पर बदमाशों का तांडव, मथुरा डीएम लुटने से बचे