R bhaarat tv चैनल पर मुंबई पुलिस ने कसा शिकंजा,पूरी टीम पर रिपोर्ट दर्ज

0
305

मुंबई। सुशांत- रिया मामले से महाराष्ट्र सरकार और टीवी चैनल  आर भारत के मध्य छिड़ी जंग के बाद बाद टीआरपी घोटाले मे फंसे टीवी चैनल पर मुंबई पुलिस ने शिकंजा और ज्यादा कड़ा करते हुए 4 नामजदों सहित चैनल के अन्य कर्मियों के खिलाफ मामला किया गया है,मामला दर्ज होने के बाद मीडिया जगत मे हड़कम्प मचा हुआ है।
केंद्र एवं महाराष्ट्र सरकार के बीच तनातनी के बीच शुंशान्त- रिया केस मे आर भारत चैनल के सम्पादक अर्णव गोस्वामी और महाराष्ट्र सरकार के टकराव के हालात पैदा होने के बाद टीआरपी घोटाले मे फंसे टीवी चैनल पर मुंबई पुलिस को कथित रूप से बदनाम करने के आरोप में शुक्रवार को समाचार चैनल Republic TV के 4 पत्रकारों समेत चैनल के लगभग सभी मीडियाकर्मियों के खिलाफ गैर जमानती धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। Republic TV मीडिया नेटवर्क ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि इतिहास में पहली बार किसी न्यूज़ चैनल के खिलाफ ऐसी कार्रवाई हुई है।

वहीं, रिपब्लिक चैनल का कहना है कि चैनल की पूरी एडिटोरियल टीम के खिलाफ FIR दर्ज की गई है, जिसका मतलब है कि करीब 1000 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। रिपब्लिक टीवी ने इसे ‘मीडिया अधिकारों पर हमला’ करार दिया और कहा कि चैनल बदले की भावना से की जा रही कार्रवाई के खिलाफ हर ‘मजबूत रणनीति’ से लड़ेगा, मुंबई पुलिस आयुक्त संविधान और कानून से ऊपर नहीं है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, एक अधिकारी ने कहा कि शहर के एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन में दर्ज एफआईआर में शहर पुलिस आयुक्त के खिलाफ ‘विद्रोह’ के बारे में चैनल द्वारा चलाई गई एक रिपोर्ट से संबंधित है।

अधिकारी ने कहा कि FIR पुलिस की धारा 3 (1) के तहत दायर की गई है। इसमें एंकर और डिप्टी न्यूज एडिटर शिवानी गुप्ता, एंकर और सीनियर एसोसिएट एडिटर सागरिका मित्रा, डिप्टी एडिटर शवन सेन और कार्यकारी संपादक निरंजन नारायणस्वामी का नाम है।
इस सम्बंध में मुंबई पुलिस द्वारा जारी प्रेस रिलीज पढें

देखें पुलिस प्रेस रिलीज-

NM Joshi Marg PS has registered Spl.LAC No. 20/2020, u/s 3(1) Police (Incitement to Disaffection) Act 1922, r/w Sec. 500, 34 IPC

Complainant- PSI Shashikant Pawar , Special Branch 1 .

Accused – (1) Sagarika Mitra Dy News Editor,
(2)Shivani Gupta Anchor/Sr Associate Editor,
(3) Shawan Sen Dy Editor,
(4) Niranjan Narayanswamy Executive Editor,
(5)Editorial staff and Newsroom Incharge for the concerned report getting aired and others.

The accused by airing the concerned report have commited offences amounting to incitement to disaffection among members of the Police Force and defaming Mumbai Police .

रिपब्लिक टीवी पर मुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई के बाद एडिटर इन चीफ अर्णब गोस्वामी बोले- आपातकाल के समय भी कभी किसी मीडिया के खिलाफ ऐसा नहीं हुआ, हम नहीं डरने वाले, इस बार सिर्फ मैं नहीं, चैनल के सभी स्टाफ पुलिस थाने में जाएंगे!