चेतना यात्रा के माध्यम से 50 हजार विप्रों को जोड़ेगी युवा ब्राह्मण महासभा

0
67

मथुरा। अखिल भारत वर्षीय ब्राह्मण महासभा के मार्ग निर्देशन में उत्तर प्रदेश युवा ब्राह्मण महासभा द्वारा सम्पूर्ण ब्रज मंडल में निकाली जा रही विप्र चेतना यात्रा गत दिवस छाता विधानसभा क्षेत्र में पहुंची। विप्र एकता का बिगुल फूंक रही विप्र चेतना यात्रा का जगहजगह पुष्प वर्षा एवं दुपट्टा पहनाकर स्वागत किया गया।

कोसीकलां स्थित ब्राह्मण धर्मशाला पहुंची विप्र एकता यात्रा का स्वागत कोसीकलां ब्राह्मण सभा द्वारा भव्य स्वागत किया गया। यहां आकर यात्रा सभा में तब्दील हो गई। सभा का शुभारंभ अखिल भारत वर्षीय ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता बिहारी लाल वशिष्ठ, ब्रज प्रांत अध्यक्ष पं. रमेश दत्त शर्मा, ब्रज प्रांत महामंत्री एवं युवा ब्राह्मण महासभा के संस्थापक/अध्यक्ष राजेश पाठक, अखिल भारत वर्षीय ब्राह्मण महासभा के जिलाध्यक्ष डाॅ. आशुतोष भारद्वाज, युवा ब्राह्मण महासभा के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष आशीष चतुर्वेदी, मंडल अध्यक्ष राजवीर दीक्षित, जिलाध्यक्ष पं. दीपक कौशिक, महिला सभा संयोजिका प्रियंका उपाध्याय एवं ब्रह्म कीर्ति रक्षक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जुगेंद्र भारद्वाज ने संयुक्त रूप से भगवान परशुराम के आदमकद चित्रपट के सम्मुख दीप प्रज्जवलित कर एवं पुष्प अर्पित कर किया।

युवा ब्राह्मण सभा के संरक्षक एवं ब्रज प्रांत अध्यक्ष पं. रमेश दत्त शर्मा ने बताया कि ब्राह्मण हमेशा से ही सर्व समाज को साथ लेकर चलता आया है। इसके बाद भी अन्य समाज ब्राह्मण को अपने शोषण के लिए दोषी ठहराता है। कहा कि छाता की गोवर्धन चैक पर भगवान परशुराम की प्रतिमा लगनी चाहिए। यह विगत 15 वर्षों से प्रस्तावित है।

राष्ट्रीय प्रवक्ता बिहारीलाल वशिष्ठ ने ब्राह्मणों पर हो रहे अपराधों की निंदा करते हुए कहा कि कहा कि सरकार को उचित कदम उठाने चाहिए। सम्पूर्ण ब्रज मंडल को तीर्थ स्थल घोषित करते हुए अंडा, मांस एवं शराब की बिक्री पर प्रतिबंध लगाना चाहिए।

ब्रह्म कीर्ति रक्षक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जुगेंद्र भारद्वाज ने बताया कि संगठनों एवं गोत्रों में बांटना ब्राह्मण समाज के लिए अत्यंत घातक है। संयुक्त स्वाभिमान की रक्षा हेतु ही इस विप्र चेतना यात्रा का आयोजन किया गया है। हम सभी को संगठित होकर अपनी शक्ति को पहचानने की आवश्यकता है।

जिला अध्यक्ष दीपक कौशिक ने बताया कि विप्र चेतना यात्रा शुभारंभ 27 सितंबर को मथुरा वृंदावन से हुआ। अब तक करीब 30 गांवों में होकर यह यात्रा विप्रों को जगाने का काम कर चुकी है। इसी क्रम में आज यह यात्रा छाता पहुंची है। यात्रा ब्रज चैरासी कोस में लगभग 121 गांवों में जाकर विप्र एकता का बिगुल फूंकेगी।

महानगर अध्यक्ष चंद्रशेखर गौड़ ने कहा कि विप्र के जागने का अब वक्त आ चुका है। यदि अब भी ब्राह्मण नहीं जागा और एकजुट नहीं हुआ तो उसे पछताना पड़ेगा। अब ब्राह्मण के सुदामा बनने के साथ-साथ परशुराम बनने भी समय आ चुका है। सरकारें ब्राह्मणों का शोषण करने में लगी हुई हैं। विप्र चेतना यात्रा के माध्यम से युवा ब्राह्मण महासभा का प्रदेश में करीब 50 हजार युवाओं को जोड़ने का उद्देश्य है।

कोसीकलां से पूर्व यात्रा सर्वप्रथम छाता स्थित भारद्वाज मार्केट परशुराम चैक पहुंची। यहां सुशील भारद्वाज, ब्रह्म कीर्ति रक्षक दल के सचिव डॉ. घनश्याम मिश्र एवं विधानसभा संयोजक पं. भारत शर्मा के नेतृत्व में सभी का भव्य स्वागत किया गया। बताया कि यह यात्रा प्रमुख रूप से सम्पूर्ण ब्रज मंडल को तीर्थ स्थल घोषित कराने एवम् ब्राह्मणों को एकजुट करने के उद्देश्य से निकली जा रही है। यहां अनिल भारद्वाज, शशिकांत शर्मा, नेकराम शर्मा ने सभी विप्र बंधुओ को पटका पहनाकर सम्मानित किया गया।

इसके पश्चात यात्रा ने कोसीकलां नगर के लिए प्रस्थान किया। यहां नगर अध्यक्ष सुभाष चन्द्र शर्मा के नेतृत्व में यात्रा का स्वागत किया गया। इस अवसर पर जिला महामंत्री भानु भारद्वाज, प्रदेश उपाध्यक्ष बालकिशन दीक्षित, महानगर मंत्री कृष्ण चंद्र भारद्वाज, ब्रज प्रांत प्रवक्ता पं. श्याम शर्मा, महानगर संयोजक पं. आशीष शर्मा, पवन मुखिया, रजत पाठक सहित अन्य सैकड़ों विप्र मौजूद रहे।