अग्रसेन जयंतीः ध्वजारोहण कर महिलाओं ने निकाली कलश यात्रा

0
176

मथुरा। अग्रवाल सभा द्वारा आयोजित तीन दिवसीय महाराजा अग्रसेन जयंती महोत्सव के दूसरे दिन विभिन्न स्थानों पर कुल प्रवर्तक महाराजा अग्रसेन को पुष्पांजलि अर्पित की गई। महिला समिति द्वारा कलश यात्रा निकाली गई। अग्र ध्वजारोहण किया गया। साथ ही हवन पूजा भी की गई।
प्रातः कालीन सर्वप्रथम अग्रवाल सभा द्वारा कुशक गली स्थित अग्रवाल धर्मशाला पर सभा के अध्यक्ष महावीर मित्तल, उपाध्यक्ष बनवारी लाल गर्ग, गोवर्धन दास अग्रवाल, प्रधानमंत्री सुरेश चैधरी, संगठन मंत्री शशि भानु गर्ग, कोषाध्यक्ष राजकुमार अग्रवाल, प्रचार मंत्री योगेश गोयल, आडिटर छगनलाल कागजी द्वारा सामूहिक रूप से कुल देवी महालक्ष्मी कुल प्रवर्तक महाराजा अग्रसेन के समक्ष दीप प्रज्वलित कर मंत्रोच्चारण के मध्य चंदन टीका माला व पुष्प वर्षा कर महाराज जी को पुष्पांजलि अर्पित कर पताका फहराई गई।
सरस्वती कुंड स्थित अग्रवाटिका में अग्रवाल सभा महिला समिति के तत्वधान में कोविड-19 को ध्यान रखते हुए कलश यात्रा निकाली गई। इसमें सबसे आगे अग्र ध्वज फिर ढोल-नगाड़े के साथ समाज की महिलाएं मंगल कलश लेकर चल रही थी। यह कलश यात्रा माधुरी अग्रवाल के संयोजन में निकाली गई कलश यात्रा के पीछे-पीछे बड़ी संख्या में समाज के बंधु जयकारे व पुष्प वर्षा करते चल रहे थे।
सभा के अध्यक्ष महावीर मित्तल ने महाराजा अग्रसेन को याद करते हुए कहा कि इस संक्रमण काल में हमें अपनी कुल देवी महालक्ष्मी व कुल प्रवर्तक महाराजा अग्रसेन के बताए मार्ग पर चलकर अपना व समाज का कल्याण करना होगा। इस काल में बहुत से हमारी सजातीय बंधु आर्थिक शारीरिक परेशानियों का सामना कर रहे हैं। हमें महाराजा अग्रसेन के आदर्शों के अनुरूप ऐसे लोगों के सहयोग में आगे आना चाहिए।
प्रधानमंत्री सुरेश चैधरी ने जयंती की बधाई देते हुए अपनी गौरवशाली परंपराओं व आदर्शों का पालन करते हुए सामाजिक जिम्मेदारियों में और अधिक सक्रियता के साथ आगे आकर प्रयत्न करने व इस संक्रमण काल के शीघ्र खत्म होने के लिए कुल देवी महालक्ष्मी वा महाराजा अग्रसेन से प्रार्थना करने की बात कही।
सभा के संगठन मंत्री शशिभानु गर्ग ने कहा कि संपूर्ण विश्व में सभी अग्र कुल के लोग महाराजा अग्रसेन की 5144 वीं जयंती मना रहे हैं। किसी भी समाज के लिए अपनी कुल की गौरव गाथा को 5000 वर्ष से भी अधिक तक संजोकर रखना उसका गौरवशाली इतिहास दर्शाता है।


इसी क्रम में तीन दिवसीय अग्रसेन जयंती महोत्सव में प्रथम दिन बच्चों के लिए वर्चुअल प्रतियोगिता दित्तीय दिन पुष्पांजलि व कलश यात्रा व तृतीय दिन सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ इस संक्रमण काल में हमसे दूर हुए सजातीय बंधुओं को भावभीनी श्रद्धांजलि के साथ इस तीन दिवसीय महोत्सव का समापन होगा जो कि पूर्णतः वर्चुअल होगा।
कलश यात्रा में शामिल सभी महिलाओं को महिला समिति की संयोजिका मीरा अग्रवाल आशा अग्रवाल, अध्यक्ष वंदना बंसल, मंत्री रेनू अग्रवाल द्वारा उपहार प्रदान करते हुए जयंती की शुभकामनाएं दी। सभी मेधावी सजातीय छात्रों से जिन्होंने इस वर्ष यूपी बोर्ड में हाईस्कूल व इंटरमीडिएट में 90 प्रतिशत एवं उससे अधिक या सीबीएसई, आईसीएसई बोर्ड में 95 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त किए हो। वह सभा या महिला समिति पदाधिकारियों को अपनी अंक तालिका की छाया प्रति 18 अक्टूबर तक उपलब्ध करा दें। जिससे उनका सम्मान किया जा सके।
इसके पश्चात सभी अग्र बंधुओं द्वारा सामूहिक रूप से महाराजा अग्रसेन चैक मसानी पहुंचकर महाराजा अग्रसेन की प्रतिमा पर रोली चावल लगा माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की। इस अवसर पर संपूर्ण वातावरण महाराजा अग्रसेन की जयकारों से गूंज उठा। इस अवसर पर प्रमुख रूप से उत्तर प्रदेश व्यापार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष पूर्व राज्य मंत्री रविकांत गर्ग, रामलीला सभा के अध्यक्ष जयंती प्रसाद अग्रवाल, तिलक द्वार धर्मशाला समिति के अध्यक्ष महेश बंसल, मंत्री हेमंत अग्रवाल, पूर्व पालिका अध्यक्ष वीरेंद्र अग्रवाल, रामलीला सभा के उपसभापति जुगल किशोर अग्रवाल, धर्मशाला समिति के उपाध्यक्ष राकेश अग्रवाल, उपमंत्री तुषार हाथी, कोषाध्यक्ष किशोर मित्तल, सभा के पूर्व प्रधानमंत्री रवि मास्टर, हेमेंद्र गर्ग, मनोज अग्रवाल, विजय अग्रवाल, मनोज किरोड़ी, अमित बगिया, डा. डीडी गर्ग, योगेंद्र गोयल, केशव देव, प्रवीण, पप्पी, मृदुल अग्रवाल आदि उपस्थित रहे।

शेरगढ़ में श्री गोपीनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद श्री महाराजा अग्रसेन का मुकुट रथ पर रखकर शोभायात्रा निकाली गई। जिसका जगह-जगह लोगों ने स्वागत किया। अग्रवाल कमेटी के अध्यक्ष बांकेलाल गर्ग का खेमचन्द गर्ग, गोविंद कुमार गोयल, खेमचंद गोयल, सुरेश चंद तिवारी, ओमप्रकाश गर्ग, अशोक कुमार गर्ग, टीकम हलवाई आदि ने दुपट्टा शाल पहनाकर स्वागत किया।
इस अवसर पर श्यामसुंदर गोयल, भगवान हरि गोयल, गोपीचंद गर्ग, अनिल कुमार अग्रवाल, आशीष कुमार मंगला, पिंटू गोयल, मुकेश चंद गर्ग, दीपक कुमार बंसल, खेमचंद अग्रवाल, लाल चंद गोयल, कुमार गर्ग, प्रभु दयाल गर्ग, पवन कुमार गर्ग, हरिशंकर बंसल, सोमदत्त गोयल, कुणाल अग्रवाल, मनीष कुमार जैन, मनोज कुमार गोयल, छैल बिहारी गोयल, श्रवण कुमार, कन्हैया लाल गोयल, प्रमोद कुमार गर्ग, खेमचंद गोयल, खेमचंद गर्ग आदि उपस्थित रहे।