पहले सोशल मीडिया से हुआ प्यार, फिर रिश्ते हुए तार-तार

0
464

मथुरा। यह इश्क नहीं आसां, बस इतना समझ लीजिए, आग का दरिया है, डूब कर जाना है। यह पंक्तियां एक बार फिर तीन बच्चों की मां पर सटीक साबित हो रही हैं। जिसने अपने पति को छोड़कर अविवाहित युवक से सोशल मीडिया के माध्यम से दोस्ती कर शादी रचा ली। अब मतभेद होने पर दोनों के रास्ते जुदा हो गए।

जनपद के कस्बा मांट में भिंड निवासी अविवाहित युवक हाकिम सिंह बीते कई वर्ष से ढकेल लगाकर गुजर बसर कर रहा था। इसी दौरान उसका उत्तराखंड निवासी महिला आशा देवी से सोशल मीडिया पर संपर्क हुआ। दोनों के बीच चैटिंग होने लगी। बातें करते करते दोनों एक दूसरे के काफी करीब आ गए। युवक के प्रेमजाल में फंसी आशा देवी अपने तीन बच्चों और पति को छोड़कर कस्बा मांट आ गई। यहां दोनों ने जीने मरने की कसमें खाकर साथ रहने का वादा करते हुए लव मैरिज कर ली।

शादी के कुछ महीनों बाद ही प्यार का नशा दोनों पर से ही उतरने लगा। दोनों के बीच झगड़े और मतभेद होने लगे। यह मतभेद भी इस स्तर के हो गए कि दोनों ही एक दूसरे का चेहरा देखना भी गवारा नहीं समझते। हालांकि युवक ने अपनी रूठी पत्नी को मनाने का काफी प्रयास किया लेकिन वह सफल नहीं हो सका। आखिर में दोनों के बीच तलाक हो गया। पति का आरोप है कि पत्नी के मायके वाले उससे आए दिन पैसे मांगते हैं। पैसे न देने पर आए दिन विवाद होता था। वहीं पत्नी का कहना है कि पति घर खर्च के लिए पैसा देने से इंकार करता है। इससे घर का खर्चा चलाना काफी मुश्किल हो रहा था। इसके चलते ही दोनों में काफी समय से झगड़ा हो रहा था। सात जन्मों तक साथ-साथ जीने मरने की कसमें खाने वाले प्रेमी जोड़े के रास्ते जुदा हो गए। यह लव स्टोरी क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है।