हाथरस की बिटिया को न्याय दिलाने को कांग्रेस ने निकाला कैंडिल मार्च

0
300

मथुरा। हाथरस की बिटिया मनीषा वाल्मीकि के साथ हुई हैवानियत और उपचार के दौरान उसकी मौत के बाद विपक्ष सहित आम लोगों में भी काफी गुस्सा है। वह प्रदेश में आए दिन हो रही बलात्कार एवं हत्या की घटनाओं को लेकर सरकार की काफी निंदा कर रहे हैं। हाथरस की घटना में मृत युवती को न्याय दिलाने के लिए मंगलवार की शाम को जिला एवं महानगर कांग्रेस सड़क पर उतर आई। कैंडिल मार्च कर बिटिया को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग करते हुए न्याय की मांग की।


कांग्रेस के जिलाध्यक्ष दीपक चौधरी के नेतृत्व में दर्जनों कांग्रेसियों ने भूतेश्वर चौराहे से लेकर कृष्णानगर चौराहा तक कैंडिल मार्च निकाला। इस दौरान जिलाध्यक्ष दीपक चौधरी ने कहा कि हाथरस की बेटी का बलात्कार करने के बाद दबंगों ने उसके साथ हैवानियत की हद पार कर दी। उसकी जीभ काट दी। उसकी रीढ़ की हड्डी तक तोड़ दी। इतने पर भी सत्ताधारी पार्टी के इशारे पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। प्रदेश के सत्ताधारी नेता इस मामले को दबाने में लगे रहे। बुरी तरह घायल बेटी ने दिल्ली में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। तो अब कार्रवाई का दिखावा किया जा रहा है। इस दौरान कांग्रेसियों ने मृतक युवती को श्रद्धांजलि देते हुए न्याय की मांग की। इस दौरान जिला अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष चौ. शहाबुद्दीन, पूर्व युवा लोकसभा अध्यक्ष विक्रम वाल्मीकि, योगेश त्रिपाठी, राहुल अरोरा, प्रवीण भास्कर, बंटी सिद्धकी, हाजी अब्बू, सलाउद्दीन, रहीस, इकबाल कुरैशी, नन्हे खान, रियाज खान सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

महानगर कांग्रेस कमेटी ने विकास बाजार स्थित गांधी प्रतिमा से लेकर होलीगेट चौराहा तक हाथरस की बेटी को न्याय दिलाने के लिए कैंडल मार्च निकाल कर उत्तर प्रदेश की गूंगी बहरी योगी सरकार के खिलाफ विरोध जताया। महानगर अध्यक्ष उमेश शर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश की भ्रष्ट योगी सरकार महिला विरोधी सरकार है। योगी जी सरकार बनाने के बाद कहते थे कि अपराधी उत्तर प्रदेश छोड़ चुके हैं, लेकिन अपराधी और अपराध उत्तर प्रदेश में दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। अपराध को रोकना सरकार के नियंत्रण में नहीं है। हम ऐसी सरकार का विरोध करते हैं और योगी जी से इस्तीफे की मांग करते हैं। कैंडिल मार्च के दौरान कीर्ति कुमार कौशिक, राजरानी निमेष, विनेश सनवाल, दीपक वर्मा, अभिलाष सक्सेना, विपुल पाठक, अनूप श्रीवास्तव, गौरव सिंह, रुपेश धनगर, प्रवीण ठाकुर, यतेंद्र मुकदम, सुनील उपाध्याय,
अश्वनी कुमार सिंह, रितेश सनवाल, भूपेश गुप्ता, ललित चौहान, अनिल शर्मा, राजू फारुकी, प्रवीन शर्मा, सोमिल कुलश्रेष्ठ सहित अन्य काफी संख्या में लोग शामिल रहे।