पकौड़ा तल-बूट पाॅलिश कर कांग्रेसियों ने मनाया राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस

0
141

मथुरा। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर पीएम मोदी के जन्मदिवस को बेरोजगारी दिवस घोषित कर यूथ कांग्रेस एवं एनएसयूआई ने शहर के प्रमुख चैराहा होलीगेट पर बेरोजगार युवाओं के साथ आंदोलन किया। पार्टी के नेताओं के साथ मिलकर पकौड़े तल कर, बूट पाॅलिश कर बेरोजगारी दिवस मनाया गया। कांग्रेसियों ने एक स्वर में देश एवं प्रदेश की सरकार को भ्रष्टतम सरकार बताते हुए दोनों सरकारों के खिलाफ बिगुल फूंका।
कांग्रेस के जिला अध्यक्ष दीपक चैधरी एवं महानगर अध्यक्ष उमेश शर्मा एडवोकेट ने कहा कि केंद्र एवं प्रदेश सरकार जनता विरोधी है। सत्ता में आने के बाद इनके द्वारा बिना योजना बनाए किए गए कार्याें के चलते जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। युवाओं के पास रोजगार नहीं है। युवाओं की स्थिति बद से बदतर हो गई है। बिना सोचे समझे नोटबंदी, लॉक डाउन करके अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ दी है। 14 करोड लोग अब तक बेरोजगार हो गए हैं। हर छोटा-बड़ा व्यापारी इनकी गलत नीतियों का शिकार हुआ है। भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है।
एआईसीसी सदस्य एवं प्रमुख समाजसेवी महेश पाठक ने कहा कि प्रदेश में दिन-प्रतिदिन अपराध बढ़ रहे हैं। लूट, डकैती एवं अपहरण करने वाले बदमाशों को कोई भय नहीं है। यह सब सरकार के संरक्षण में हो रहा है। इनके खिलाफ कोई आवाज उठाता है तो उसे देशद्रोह और कोरोना एक्ट की आड़ लेकर जेल में डाल दिया जाता है, लेकिन कांग्रेस ने हमेशा देश और जनता के हित के लिए कुर्बानी दी है तो इनकी जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आवाज उठाते रहेंगे। चाहे जो भी कुर्बानी देनी पड़े।
यूथ कांग्रेस अध्यक्ष विक्रम वाल्मीकि एवं एनएसयूआई अध्यक्ष शिशुपाल चौधरी ने कहा कि आज पढ़ा लिखा युवा सड़कों पर है। ना तो उनके लिए रोजगार है और ना ही व्यापार करने के लिए कोई सहायता है। दो लाख करोड़ के फर्जी पैकेज की घोषणा करके धन का प्रयोग विधायक खरीदने और लोकतंत्र को कमजोर करने में किया जा रहा है। किसानों का भी बुरा हाल है।
प्रदेश महामंत्री एनएसयूआई प्रवीण ठाकुर एवं युवा नेता अनामधन्य तिवारी ने कहा कि युवाओं की न सुनने वाली और रोजगार न देने वाली सरकार को उखाड़ कर फेंक दिया जाएगा। सरकार कहती है कि युवा योग्य नहीं है। नौकरी-रोजगार देना तो दूर जो लोग नौकरी पर हैं, जबरन उनकी नौकरी छीनी जा रही है। सरकारी नौकरी को संविदा पर किया जा रहा है। कांग्रेस की सरकार आने पर यह आदेश निरस्त किए जाएंगे।
प्रदर्शन के दौरान रितेश पाठक, पार्षद प्रवीण भास्कर, हरीश सारस्वत, सुनील उपाध्याय, विपुल पाठक, अजय मेहरा, सोमिल कुलश्रेष्ठ, विष्णु शर्मा, सरवन अहमद, शैलेंद्र, कसन रिजवी, बलबीर सिंह, विश्वेंद्र सिंह, देवेंद्र भटनागर, सौरभ, संतोष प्रधान, प्रदीप सागर, दीपक शर्मा, सनी शर्मा, निखिल गौतम, सुधांशु दीक्षित, कपिल यादव, सिया राम पहलवान, महेश उपाध्याय, हारून अहमद, लोकेश ठाकुर, दीपक पथरिया, अंशु सिंह, रोहित गुप्ता, रामचरण, धर्मेंद्र जादौन, रोहित रावत, देवेंद्र कुमार, वरुण ठाकुर, दीपक मौर्य, सागर, विकास, अशोक वाल्मीकि सहित काफी संख्या में एनएसयूआई एवं युवक कांग्रेस के कार्यकर्ता उपस्थित थे।