थाने में भाजपा विधायक-थानाध्यक्ष में चले लात घूंसे, एसओ निलंबित

0
1304
भाजपा विधायक राजकुमार सहयोगी

अलीगढ़। कार्यकर्ता उत्पीड़न को लेकर थाने पहुंचे भाजपा विधायक एवं थानाध्यक्ष गोंडा के बीच हुई मारपीट में विधायक के कपड़े तार-तार हो गए। भाजपा कार्यकर्ताओं ने थाने का घेराव करते हुए जमकर हंगामा किया। इसके बाद डीएम, एसएसपी और जनप्रतिनिधियों के बीच घटना को लेकर वार्ता का दौर लगातार जारी था।

इगलास विधायक राजकुमार सहयोगी के साथ अलीगढ़ सांसद सतीश गौतम सहित अन्य वरिष्ठ भाजपा पदाधिकारी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के न गुंडाराज न भ्रष्टाचार का लाख दावा करें लेकिन यूपी में थानों से लेकर सड़क तक गुंडाराज थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब ताजा मामला जनपद अलीगढ़ के थाना गोंडा का सामने आया है। जहां इगलास के भाजपा विधायक राजकुमार सहयोगी के साथ पुलिस द्वारा मारपीट की गई। विधायक राजकुमार सहयोगी का आरोप है कि विश्व हिंदू परिषद् कार्यकर्ता रोहित वाष्र्णेय की अल्पसंख्यक पक्ष के साथ मारपीट हो गई थी। इसमें दूसरे अल्पसंख्यक पक्ष ने रोहित का सिर फोड़ दिया और उसके भाई के हाथ पैर तोड़ दिया। इसके बाद भी गोंडा पुलिस ने रोहित की तहरीर पर एफआईआर दर्ज नहीं की। जबकि दूसरी पार्टी से पैसे लेकर पीड़ित कार्यकर्ता के खिलाफ ही एफआईआर दर्ज कर दी। इसी मामले में वह कार्यकर्ता के पक्ष में बात करने के लिए थानाध्यक्ष गोंडा से मिलने के लिए थाना आए थे। आरोप है कि थानाध्यक्ष ने विधायक के साथ अभद्रता कर दी। जब विधायक ने विरोध किया तो पहले तो गाली-गलौज हुई फिर जमकर हाथापाई हुई। थानाध्यक्ष ने अधीनस्थों के साथ मिलकर विधायक की जमकर कुटाई कर दी। इससे गुस्साए सैकड़ों समर्थकों ने थाना घेर लिया और विधायक के साथ थाने में ही धरना दे दिया। जानकारी मिलते ही अलीगढ़ सांसद सतीश गौतम अपने समर्थकों के साथ थाना गोंडा पहुंच गए। वहां से सभी लोग जिला मुख्यालय पहुंचे। यहां पर एटा सांसद राजवीर सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष रिषीपाल सिंह, कोल विधायक अनिल पाराशर, छर्रा विधायक ठा. रविंद्र पाल सिंह, शहर संजीव राजा, डीएम चंद्रभूषण सिंह, एसएसपी मुनिराज सहित अन्य वरिष्ठ भाजपा नेता एवं प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद थे। वहीं पुलिसकर्मियों का आरोप है कि इगलास विधायक ने थानाध्यक्ष को थप्पड़ मारा था। इसके बाद ही वहां धक्का मुक्की शुरू हुई। विधायक के साथ मारपीट नहीं हुई है। घटनाक्रम की जानकारी भाजपा हाईकमान तक भी पहुंचा दी गई है। खबर लिखे जाने तक नेताओं एवं प्रशासनिक अधिकारियों के बीच वार्ता का दौर जारी था।

एसपी देहात, थानाध्यक्ष पर गिरी गाज, आईजी करेंगे जांच
इगलास विधायक के साथ थानाध्यक्ष गोंडा द्वारा की गई मारपीट का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लेते हुए आरोपी थानाध्यक्ष को निलंबित करने, एसपी देहात का अन्य जनपद स्थानांतरण करने के आदेश जारी किए गए हैं। आईजी अलीगढ़ को जांच कर 24 घंटे के अंदर विस्तृत आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।