लाॅकडाउनः 50 रुपये की खरीदी सब्जी, 6300 का कट गया चालान

0
541
(Photo - Social Media)

मथुरा। कोरोना लाॅकडाउन के एक माह बाद भी दूध, सब्जी सहित आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी उपलब्ध कराने में विफल रहा प्रशासन जनता पर किस तरह कहर बनकर टूट रहा है इसका नजारा कस्बा बाजना में देखने को मिला है। जहां सब्जी लेने आये पूर्व फौजी के पुत्र की बाइक का हेलमेट ना पहनने पर 6300 रूपये का चालान काट दिया गया।
जनपद में जैसे-जैसे कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है वैसे-वैसे लाॅकडाउन के उल्लंघन के नाम पर पुलिस-प्रशासन सरकारी खजाने को किस तरह भरने में लगा है इसका नमूना कस्बा बाजना सब्जी मण्डी में देखने को मिला। जहां कस्बे से जुड़े गांव जरैलिया निवासी पूर्व फौजी चन्द्रपाल सिंह का पुत्र अरविन्द चैधरी बाइक से सुबह के समय सब्जी लेने के लिये मुंह पर कपड़ा बांधकर बगैर हेलमेट के सब्जी लेने के लिये पहंुच गया। जहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने फोटो खींचकर उसका चालान काट दिया। चालान का एसएमएस जब मोबाइल पर आया तो चालान की राशि 6300 देखकर परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई। पूर्व फौजी का कहना है कि कस्बे में सब्जी खरीदना इतना मंहगा पड़ जायेगा, ऐसा कभी सोचा भी नहीं था। अगर पुलिस-प्रशासन ने होम डिलीवरी की सुविधा उपलब्ध करा दी होती तो उनका बेटा कभी बाजार में सब्जी लेने नहीं जाता। इसी तरह अन्य लोग भी पुलिस-प्रशासन की कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे हैं। दूसरी तरफ पुलिस-प्रशासन द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार लाॅकडाउन के उल्लंघन में 629 रिपोर्ट कर 2464 लोगों के विरूद्ध कार्यवाही की गई है जिसमें 1016 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जबकि जमाखोरी के विरूद्ध 5 मामले दर्ज कर 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। 16139 वाहनों का चालान, 576 वाहनों को सीज कर 59,17,450 (करीब 60 लाख) का जुर्माना किया गया है। जबकि लाॅकडाउन के चलते 82 स्थानों पर नाकाबन्दी के लिये बैरियर लगाये गये हैं।