पुलिस चौकी से चोरी हुई शराब, दो पुलिस कर्मियो सहित 4 गिरफ्तार

0
571

मथुरा। कोरोना लाॅक डाउन के मध्य खाकी वर्दी के संरक्षण में शराब की चोरी एवं अवैध तस्करी में लिप्त दो पुलिस कर्मियों सहित चार लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है। वहीं पुलिस चैकी प्रभारी को निलम्बित कर एसएसपी सुरक्षा को जांच दी गई है। तस्करी में प्रयुक्त कार गिरफ्तार पुलिस कर्मी की है। इस मामले से पुलिस सहित शराब तस्करों में हड़कम्प मचा हुआ है।

जनपद में कोरोना के चलते लाॅकडाउन खाकी वर्दी और शराब तस्करों के लिये किस तरह वरदान साबित हो रहा है इसका खुलासा कोसीकलां क्षेत्र की हरियाणा से सटी कोटवन पुलिस चैकी पर हुआ है। जहां चैकिंग में पकड़ी गई 50 लाख से अधिक की अवैध शराब को पुलिस कर्मियों ने तस्करों से सांठ-गांठ कर बेच दिया। मामले का खुलासा होने पर जांच पड़ताल के बाद पुलिस अफसरों ने डायल 112 पीआरवी 1882 कोसीकलां, पुलिस चैकी कोटवन के हैड कांस्टेबिल सत्येन्द्र पचैरी के साथ विष्णु पुत्र राम प्रसाद निवासी गांव अजीज पुर, थान सिंह चैकीदार फैक्ट्री कोटवन थाना कोसीकलां को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 117 पव्वा, 19 बोतल शराब घटना में प्रयुक्त अल्टो मारूती कार न. यूपी 85 एन 1143 बरामद की है जोकि गिरफ्तार कंस्टेबिल अनिल कुमार की बताई गई है।

कोटवन पुलिस चैकी प्रभारी बालेन्द्र सिंह, हैड मौहरिर्र अनुज कुमार को लापरवाही के आरोप में निलम्बित कर दिया गया है। जबकि गिरफ्तार चारों आरोपियों के खिलाफ धारा 379/411, 60 (1)/63/72 आबकारी अधिनियम के तहत मामला दर्जकर चालान किया गया। गिरफ्तार दोनों पुलिस कर्मियों को निलम्बित कर एएसपी सुरक्षा को अन्य पुलिस कर्मियों की भूमिका एवं पूरे प्रकरण की जांच सोंपी गई है। इस खुलासे को लेकर जहां पुलिस महकमे में हड़कम्प मचा हुआ है वहीं शराब तस्करों में भी भगदड़ मची हुई है। सूत्र बताते हैं कि कोटवन चैकी के निकट ही अजीजपुर में पुलिस संरक्षण में शराब-शबाब का अड्डा भी संचालित हो रहा है। जिस पर पुलिस कर्मियों का आना-जाना लगा रहता है।

कोरोना : शराब माफियाओं की बल्ले-बल्ले, कथित पत्रकार हुआ गिरफ्तार