डाॅ. निर्विकल्प अपहरण काण्ड: बदमाशों पर 50-50 हजार का इनाम घेाषित, एसआईटी गठित

0
1797

मथुरा। शहर के प्रमुख हड्डी रोग चिकित्सक डाॅ. निर्विकल्प अग्रवाल के अपहरण में नामजद चारों बदमाशों पर गैंगस्टर एक्ट में मुकद्मा दर्ज करते हुए आईजी आगरा ने सभी बदमाशों पर 50-50 हजार का इनाम घोषित करते हुए एसआईटी का गठन कर मथुरा पुलिस को सभी अपराधियों की सम्पत्ति की कुर्की करने के निर्देश दिये हैं।

मथुरा के महौली रोड़ स्थित डाॅ. निर्विकल्प अग्रवाल का करीब दो माह गोवर्धन चैराहा के निकट से उस समय अपहरण कर लिया था। जब वह अपने क्लीनिक से राधापुरम स्टेट स्थित अपने मकान पर कार से जा रहे थे। बदमाशों ने उस समय 52 लाख की फिरौती वसूल कर रिहा कर दिया था। बाद में मथुरा पुलिस ने चारों बदमाशों को पकड़कर उनसे फिरौती की रकम वसूल कर जहां बदमाशों को छोड़ दिया था। बल्कि पूरे मामले पर पर्दा डाल दिया था। मामले की गूंज उच्च अधिकारियों तक गूंज होने पर अपर पुलिस महानिदेशक अजय आनन्द ने आईजी आगरा ए सतीश गणेश को जांच सोंपी थीं।

कटघरे में खाकी : डाॅ. अपहरण काण्ड – जयगुरूदेव के मामले में फंसे पुलिस अफसर!

डॉ. निर्विकल्‍प

इस मामले के तूल पकड़ने पर जहां थाना हाइवे प्रभारी जगदम्बा सिंह द्वारा अपहरण में लिप्त सनी मालिक पुत्र देवेन्द्र मलिक निवासी न्यू सैनिक काॅलोनी थाना कंकर खेड़ा, मेरठ, महेश पुत्र रघुनाथ चैधरी, अनूप चैधरी पुत्र जगदीश चैधरी निवासीगण गांव कौलाहर थाना नौहझील जिला मथुरा, नीतेश उर्फ रीगल पुत्र दयानन्द निवासी 201/14 खजान्ची बाग हंजूर रेलवे स्टेशन भोपाल के विरूद्ध थाना हाइवे में मु.अ.सं. 71/2020 धारा 364 ए के तहत दर्ज कराया गया। बल्कि थाना प्रभारी को लापरवाही पर एसएसपी मथुरा द्वारा निलम्बित कर दिया गया। अपहरण मामले में नामजद चारों बदमाशों पर जहां आईजी आगरा ए सतीश गणेश ने गैंगस्टर एक्ट की कार्यवाही करते हुए 50-50 हजार का इनाम घोषित किया है। वहीं उनकी गिरफ्तारी के लिये अपर पुलिस अधीक्षक क्राइम के नेतृत्व में एसआईटी का गठन करते हुए बदमाशों की सम्पत्ति कुर्क करने के आदेश दिये हैं।

आईजी आगरा का कहना है कि अपहरण मामले में पुलिस की सलिप्ता की जांच की जा रही है जो भी दोषी पाया जायेगा उसके खिलाफ भी सख्त कार्यवाही की जायेगी। दूसरी तरफ अपहरण में नामजद सनी मलिक का पिता जहां सेना में अधिकारी है वहीं अनूप चैधरी का बड़ा भाई सेना में जवान हैं। बताते हैं कि मथुरा के नौहझील निवासी दोनों बदमाश महेश तथा अनूप चैधरी पूर्व में थाना नौहझील पुलिस द्वारा सराब तस्करी में जेल भेजे जा चुके हैं। बल्कि अलीगढ़ में थाना टप्पल के गांव जलालपुर में मोबाइल टावर से बैटरी चोरी में भी पकड़े जा चुके हैं। नोयडा में लड़की छेड़छाड़ में नामजद हैं। बताते हैं कि दोनों बदमाश गहरे दोस्त हैं और दोनों ही शादीशुदा हैं। गांव में ही उनका परिवार रहता है।

जयगुरूदेव विवाद: मथुरा पुलिस ने लगाई एफआर, आईजी ने की निरस्त, आगरा में होगी विवेचना