सुरीर दम्पत्ति आत्मदाहः फरार आरोपियों सहित 6 के खिलाफ FIR दर्ज

0
599

मथुरा। सुरीर कोतवाली में दबंगों के उत्पीड़न से त्रस्त दम्पत्ति की मौत के मामले में पैरवी में जुटे मृतक के चाचा ने 25-25 हजार के इनामी दो फरार आरोपियों सहित 6 लोगों के खिलाफ जान से मारने की धमकी देने की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

कस्बा सुरीर कलां निवासी जोगेन्द्र ठाकुर एवं उनकी पत्नी चन्द्रवती ने 28 अगस्त को दबंगों के उत्पीड़न से त्रस्त एवं पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही ना किये जाने पर सुरीर कोतवाली के अन्दर पैट्रोल छिड़ककर आग लगा ली थी जिसमें उपचार के दौरान दोनों की मौत हो गई। घटना के लिये मृतक दम्पत्ति के पुत्र जगदीश द्वारा मोहन श्याम शर्मा, बबलू ठाकुर, सिम्मो, थान सिंह, सत्यपाल को जिम्मेदार ठहराते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई। इस मामले में थान सिंह, सत्यपाल, सिम्मो जेल में हैं। जबकि मोहन श्याम शर्मा, बबलू ठाकुर फरार हैं जिन पर 25-25 हजार का इनाम घोषित है। बताते हैं पीड़ित पक्ष की पैरवी करने में जुटे मृतक जोगेन्द्र के चाचा महादेव उर्फ गुड्डू ठाकुर पुत्र राधारमण निवासी सुरीर को फरार आरोपियों मोहन श्याम शर्मा पुत्र दौलतराम, बबलू उर्फ देवेन्द्र ठाकुर पुत्र वीरी सिंह उसे केस की पेरोकारी बन्द कर राजीनामा करने का दबाब बना रहे हैं। जिसमें इनके साथी राम कुमार पुत्र गिर्राज, वीरा पुत्र राम पाल, महमूद पुत्र मनिया, भूपेन्द्र पुत्र पन्नालाल निवासीगण सुरीर आये दिन प्रार्थी को डराते-धमकाते है कि अगर तूने राजीनामा नहीं कराया तो तुझे जान से मार देंगे। जब वह खेत या मथुरा जाता है तो आरोपी रास्ता रोककर राजीनामा एवं पैरोकारी का दबाब बनाते हैं जिसे ना मानने पर जान से मारने की धमकी देते हैं।

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर गिरफ्तारी के प्रयास में जुटी हुई है। मृतक के चाचा गुड्डू ठाकुर ने ‘‘विषबाण’’ से कहा कि फरार आरोपियों सहित उनके सहयोगियों से उनकी जान को खतरा है। वह शीघ्र ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर पुलिस की कार्यप्रणाली से अवगता करायेंगे। उन्होंने कहा कि मृतक दम्पत्ति का एक मात्र पुत्र जगदीश भी भयभीत है।