प्रशासन की हठधर्मिता, भंडारों पर लगाई रोक, विरोध के बाद हटाई

0
411

मथुरा। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर प्रतिवर्ष श्रीकृष्ण जन्मस्थान के निकट भूतेश्वर से लेकर मसानी तिराहा तक लगने वाले भंडारों पर इस बार प्रशासन ने हठधर्मिता दिखाते हुए भंडारों पर रोक लगा दी। साथ ही भंडारा शुल्क भी 2500 रुपए से बढ़ाकर 5100 रुपए कर दिया गया। हालांकि बढ़ते हुए विरोध को देखते हुए यह आदेश वापस ले लिया गया।
भंडारों पर लगी रोक और भंडारा शुल्क बढ़ने की जानकारी मिलते ही व्यापारी समाज एवं समाज सेवी संस्थाओं ने इसका विरोध जताया। सभी लोग मिलकर उप्र व्यापारी कल्याण बोर्ड के चेयरमैन एवं पूर्व मंत्री रविकांत गर्ग के आवास पर उनसे मिलने पहुंचे। यहां सभी लोगों ने रविकांत गर्ग को अपनी परेशानी बताई। साथ ही रोष व्यक्त करते हुए भंडारों की अनुमति दिलाने और शुल्क कम कराने का आग्रह किया। पूर्व मंत्री रविकांत गर्ग ने ब्रज तीर्थ विकास परिषद् के अध्यक्ष शैलजाकांत मिश्रा, डीएम सर्वज्ञराम मिश्र, मेयर मुकेश आर्यबंधु एवं नगर आयुक्त से बात कर भंडारों पर लगी रोक को हटाने और शुल्क पर विचार करने के लिए कहा। इसके बाद डीएम सर्वज्ञराम मिश्र ने भूतेश्वर से लेकर मसानी तिराहा तक लगने वाले भंडारों पर लगी रोक को हटाते हुए अनुमति दे दी। साथ ही भंडारा शुल्क भी गत वर्ष की भांति 2500 रुपए ही लिए जाने के निर्देश देते हुए बढ़ोत्तरी वापस ले ली।