प्रियाकान्तजू मंदिर पर उमड़ रहा श्रद्धा का सैलाब, पहुंचे केंद्रीय मंत्री

0
456

मथुरा । प्रियाकान्तजू मंदिर पर आयोजित 108 श्रीमद्भागवत कथा एवं श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इसमें श्रद्धा का सैलाब उमड़ रहा है। महोत्सव के द्वितीय दिवस केन्द्रीय मंत्री गिर्राज सिंह वृन्दावन आये। मंदिर दर्शन उपरान्त उन्होंने व्यास पीठ पूजन कर भागवत आरती उतारी तथा भागवत प्रवक्ता देवकीनंदन महाराज से आशीर्वाद ग्रहण किया। अपने सम्बोधन में केन्द्रीय मंत्री ने जनसंख्या नियंत्रण को जरूरी बताया तथा अनुच्छेद 370 हटाने का विरोध करने वालों को पाकिस्तानी मानसिकता से ग्रसित करार दिया। इससे पूर्व गत दिवस प्रदेश के कैबिनेट मंत्री चैधरी लक्ष्मीनारायन भी प्रियाकांत जू मंदिर पहुंचे थे। यहां उन्होंने भागवत आरती कर महोत्सव की बधाई दी।
शांति सेवा सभागृह में हजारों श्रोताओं को सम्बोधित करते हुये केन्द्रीय पशुपालन एवं डेयरी मंत्री ने सनातन धर्म को सर्वकल्याण करने वाली भावना का संवाहक बताया। देश में जनसंख्या नियंत्रण के लिये कानून की बनाने की पुरानी माँग दोहराते हुये उन्होने कहा कि आज इसकी आवश्यकता लोगों को समझ आ रही है। हमारे पास संसाधन कम हैं और उपयोग करने वाले ज्यादा हैं। कहा कि जनसंख्या नियंत्रण को लेकर आमजन में जागरूकता फैलाने में देवकीनंदन महाराज ने प्रथम पंक्ति में कार्य किया है। इस दिशा में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका बताते हुये केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि माता-बहनें सदैव देश के लिये सहयोग आगे आती रही हैं।


इससे पूर्व पत्रकार वार्ता में गिर्राज सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 और 35 ए हटाये जाने से पूरे देश में खुशी मनायी जा रही है, लेकिन कुछ लोग हैं जो भारत में रहकर पाकिस्तान की बोली बोल रहे हैं। उन्हें यह समझना चाहिये कि भारत का नौजवान का क्या चाहता है। राहुल गाँधी, पी. चिदम्बरम, गुलाम नबी आजाद जैसे कांग्रेसी नेताओं का नाम लेते हुये उन्होने कहा कि जो पाकिस्तान चाहता है वही कार्य ये लोग कर रहे हैं। कहा कि भारत में जो लोग अपनी राजनीति के लिये तनाव और उग्रवाद फैला रहे हैं भारत सरकार उनसे कड़ाई से निबटेगी।
भागवत कथा के मध्य देवकीनंदन महाराज ने कहा कि राजनैतिक पार्टियों को एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करने का अधिकार है लेकिन जब देश की बात हो तो अन्तराष्ट्रीय स्तर पर एक साथ खड़े होना चाहिये। अनुच्छेद 370 हटाने का स्वागत करते हुये उन्होने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों ने इस समस्या को आगे बढ़ाते रहने का कार्य किया था। मोदी सरकार ने आगे बढ़कर साहिसक निर्णय लिया है, इसमें हमें सरकार का साथ देना चाहिये। देवकीनंदन महाराज ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाकर इसको निष्पक्षता से लागू करना चाहिये। इसमें किसी भी वर्ग के लिये अलग-अलग मापदण्ड रखने की गुंजाइश न रहे।
विश्व शांति सेवा चैरीटेबल ट्रस्ट की ओर से केन्द्रीय मंत्री को स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया। इस अवसर पर संस्था सचिव विजय शर्मा, भाजपा के राजेश चैधरी, रवि रावत, सतीश गर्ग, श्रीपाल जिंदल, धमेन्द्र शर्मा, जेपी सिंघल, एसके अग्रवाल, अनिल त्यागी, सुरेश गोयल, ओमप्रकाश सोनी, नरेश शाह, जगदीश वर्मा आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।