खरंजा निर्माण में घटिया सामग्री की जांच करने पहुंचे बीडीओ, लिए सैंपल

0
507

मथुरा। तहसील मांट के विकासखंड नौहझील के गांव सुरीर बिजऊ में हाल ही में निर्मित सड़क पर घटिया निर्माण सामग्री उपयोग करने की शिकायत पर बुधवार को खंड विकास अधिकारी और सहायक अभियंता जांच के लिए मौके पर पहुंचे। उन्होंने मौके से सड़क में लगी ईंटें और अन्य सामग्री को सैंपल के लिए एकत्रित किया। ग्रामीणों के अनुसार, अधिकारियों ने भी माना कि निर्माण में पीला ईंटों का ही प्रयोग किया गया है।


गांव सुरीर बिजऊ में कुछ माह पूर्व ही खरंजा/नाली निर्माण किया गया था। स्थानीय ग्रामीण मोनू रावत पुत्र रामबाबू ने खरंजा नाली निर्माण में घटिया सामग्री प्रयोग करने की शिकायत की थी। आरोप था कि गांव के प्रधान एवं सचिव ने खरंजा निर्माण में वित्तीय घोटाला करते हुए घटिया सामग्री का उपयोग किया था। इस संबंध में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा लगातार खंड विकास अधिकारी नौहझील एवं सहायक अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण विभाग को जांच के लिए निर्देशित किया था। इसके बाद मुख्य विकास अधिकारी रामनेवास ने 19 जुलाई को खंड विकास अधिकारी एवं सहायक अभियंता को सख्त निर्देश देते हुए 3 दिन के अंदर आख्या मांगी थी। लेकिन फिर भी दोनों अधिकारियों के कानों पर जूं नहीं रेंगी लेकिन जब सीडीओ ने इस प्रकरण में शीघ्र जांच कर आख्या न सौंपने की स्थिति में विभागीय कार्यवाही अमल में लाए जाने की चेतावनी दी। इसके बाद बीडीओ नौहझील एवं एई सक्रिय हुए और बुधवार को गांव में जांच के लिए पहुंचे। यहां उन्होंने ग्रामीणों के सामने ही खरंजा में लगी ईंटों को निकाला और ईंटों को तोड़कर देखा। ईंट आसानी से टूट गई। ग्रामीणों का कहना है कि अधिकारियों ने उनके सामने माना है कि खरंजा निर्माण में पीला ईंटों का प्रयोग किया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि अधिकारियों ने पीला ईंट और अन्य निर्माण सामग्री को जांच के लिए एकत्रित किया है।