फ्रिज खराब होने पर सही न करना पड़ा भारी, देना होगा हर्जाना

0
283

मथुरा। एक उपभोक्ता का फ्रिज खराब होने के बाद भी दुकानदार द्वारा उसे न बदलना भारी पड़ गया। जिला उपभोक्ता फोरम ने दुकानदार को उसके खराब फ्रिज के थर्मास्टेट को बदलने एवं वाद व्यय के रुप में 3 हजार रुपए अदा करने के निर्देश दिए हैं।
जनरलगंज स्थित नगर पालिका के सामने रहने वाले बांकेबिहारी अग्रवाल ने कुछ समय पूर्व कोतवाली रोड स्थित सिंघल शॉपी से व्हर्लपूल कंपनी का एक रेफ्रिजरेटर खरीदा था। आरोप है कि खरीदने के साथ ही फ्रिज में कमियां आना शुरु हो गईं और उसने कूलिंग करना भी कम कर दिया। कई बार शिकायत करने के बाद दुकानदार ने एक टेक्निशियन को जांच के लिए भेजा। जांच के बाद पता लगा कि फ्रिज का थर्मोस्टेट खराब हो गया है और उसे बदलना पड़ेगा। वारंटी पीरियड में होने के बाद भी कंपनी ने थर्मोस्टेट नहीं बदला। कई बार अनुरोध किया गया लेकिन कंपनी और दुकानदार ने उनकी समस्या का समाधान नहीं किया। इससे परेशान होकर उन्होंने जिला उपभोक्ता फोरम में वाद दायर कर दिया। जिला उपभोक्ता फोरम ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद उपभोक्ता के पक्ष में निर्णय दिया है। निर्णय के अनुसार कंपनी को 30 दिन के अंदर फ्रिज का थर्मोस्टेट बदलकर फ्रिज को सही करना होगा। साथ ही वाद व्यय के रुप में 3 हजार भी देने होंगे। अपने पक्ष में निर्णय आने से पीड़ित ने राहत की सांस ली है।