सपना चौधरी के ठुमकों को लेकर बृज के कलाकारों ने किया विरोध को ऐलान

0
2409

मथुरा। संस्कृति विभाग द्वारा मथुरा के कोसीकलां में 6-7 जुलाई को प्रस्तावित बरखा बहार कार्यक्रम में हरियाणवी डांस स्टार एवं रागिनी गायिका सपना चौधरी के कार्यक्रम को लेकर जनपद में विरोध के स्वर मुखर हो रहे हैं। पूर्व में मथुरा में प्रस्तावित सपना चौधरी के कार्यक्रमों की अनुमति कानून व्यवस्था ध्वस्त होने की आशंका को देखते हुए निरस्त करने वाले अधिकारियों ने शासन की मंशा के अनुरुप हो रहे इस कार्यक्रम को लेकर अब मौन साध लिया है। इसे लेकर सोशल मीडिया पर भी काफी हंगामा मचा हुआ है।
ब्रज की कला और संस्कृति को धरोहर के प्रचार प्रसार के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा विगत 2 वर्षां से मथुरा जनपद में बरखा बहार कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इसके तहत पहली बार यह कार्यक्रम वृंदावन में और दूसरा कार्यक्रम बरसाना में आयोजित किया गया। अब तीसरा कार्यक्रम कोसीकलां स्थित मंडी परिषद् में दो दिवसीय बरखा बहार कार्यक्रम 6-7 जुलाई को आयोजित किया जा रहा है। इसमें 7 जुलाई को हरियाणा की डांस स्टार एवं रागिनी गायिका सपना चौधरी का भी कार्यक्रम तय हो चुका है। संस्कृति विभाग द्वारा बकायदा आमंत्रण कार्ड छपवा कर वितरित किए जा रहे हैं। इसमें स्पष्ट लिखा हुआ है कि सपना चौधरी कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगी। सपना चौधरी के इसी कार्यक्रम को लेकर मथुरा में विवाद आरंभ हो गया है। पूर्व में मथुरा में कई बार सपना चौधरी के कार्यक्रम प्रस्तावित थे। प्रशासनिक अधिकारियों ने शांति एवं कानून व्यवस्था भंग होने की आशंका देखते हुए कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी तो एक बार अनुमति देने के बाद भी कार्यक्रम आयोजित होने वाले दिन ही निरस्त कर दी। सौंख रोड पर होने वाले कार्यक्रम की टिकटों की बिक्री भी हो चुकी थी। इससे दर्शकों ने आयोजन स्थल पर हंगामा कर दिया था। मनोरंजन कर विभाग द्वारा आयोजकों को नोटिस थमा दिया गया था। वहीं बृज के संतों और हिंदूवादी संगठनों ने भी सपना चौधरी के वृंदावन में प्रस्तावित कार्यक्रम का जमकर विरोध करते हुए इसे बृज की संस्कृति के खिलाफ बताया था। लेकिन अब शासन के निर्देशानुसार संस्कृति विभाग द्वारा ही कोसीकलां में सपना चौधरी के कार्यक्रम को आयोजित किया जा रहा है। जबकि प्रदेश में हिंदूवादी मानी जाने वाली भाजपा की सरकार है। कार्यक्रम में 6 जुलाई को भाजपा के बृज क्षेत्र के क्षेत्रीय संगठन मंत्री भवानी सिंह मुख्य अतिथि होंगे। कैबिनेट मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी अध्यक्षता करेंगे। वहीं 7 जुलाई को सपना चौधरी के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि केंद्रीय पशुधन एवं डेयरी विकास मंत्री संजीव बालियान होंगे। इस कार्यक्रम को लेकर बृज के संत और हिंदूवादी संगठनों ने फिलहाल तो चुप्पी साध रखी है। वहीं कुछ कलाकार खुलकर विरोध कर रहे हैं तो सोशल मीडिया पर भी इसे लेकर काफी हंगामा मचा हुआ है।

मोहनस्वरुप भाटिया

पद्मश्री एवं प्रमुख साहित्यकार मोहनस्वरुप भाटिया ने विषबाण को बताया कि बरखा बहार कार्यक्रम सावन से जुड़ा हुआ है। इसमें बृज के कलाकारों की प्रस्तुति होना आवश्यक है लेकिन संस्कृति विभाग द्वारा सपना चौधरी का डांस कार्यक्रम कराना उचित नहीं कहा जा सकता।

मुरारी लाल तिवारी

राष्ट्रीय गौरव पुरस्कार प्राप्त लोक कलाकार मुरारी लाल तिवारी मुखराई ने कहा कि बरखा बहार कार्यक्रम के नाम पर सपना चौधरी का फूहड़ डांस ब्रज के लोक कलाकार किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम 4-5 करोड़ के बजट से वोटरों और सजातीय लोगों को खुश करने के लिए कराया जा रहा है जो कि ब्रज संस्कृति के विपरीत है और स्थानीय कलाकार इसका विरोध करेंगे।

माधुरी शर्मा

प्रमुख लोक गायिका माधुरी शर्मा ने कहा कि बरखा बहार बृज की मल्हारों से जुड़ा कार्यक्रम है जो कि सावन के महीने में आयोजित होता है। यह राधाकृष्ण की नगरी है। यहां बृज संस्कृति के कार्यक्रम ही होने चाहिए। लेकिन सपना चौधरी बृज संस्कृति और परंपरा के खिलाफ है। इससे बृज के कलाकारों का सरकार द्वमनारा अपमान किया गया है। इसका कलाकारां द्वारा विरोध किया जाएगा।

मनोज मोहन शास्त्री

प्रमुख भागवताचार्य मनोज मोहन शास्त्री का कहना है कि उन्होंने सपना चौधरी के कार्यक्रम का कभी विरोध नहीं किया और वह आज भी विरोध में नहीं हैं लेकिन बृज की मर्यादाओं के खिलाफ बृज में ऐसा कोई कार्यक्रम नहीं होना चाहिए जिससे स्थानीय जनपदवासियों की मर्यादा को ठेस पहुंचे। वह मर्यादा पूर्ण कार्यक्रम के समर्थन में हैं।

अनुपम गौतम
अनुपम गौतम

संस्कार भारती के जिला महामंत्री अनुपम गौतम ने कहा कि बरखा बहार कार्यक्रम के नाम पर फूहड़पन का कोई भी कार्यक्रम बृज के लोक कलाकार एवं साहित्यकार किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं करेंगे। इसके विरोध में बृज के लोक कलाकार शनिवार को जिलाधिकारी को कार्यक्रम निरस्त करने को लेकर ज्ञापन देंगे। उन्होंने सभी बृज कलाकारों से जिला मुख्यालय पहुंचने की अपील की है।

सीमा मोरवाल

बृज की लोक कलाकार सीमा मोरवाल का कहना है कि बृज की लोक संस्कृति को छिन्न भिन्न करने का षडयंत्र रचकर सपना चौधरी का डांस कराना बृज के कलाकारों का अपमान तो है ही, वरन् बृज की संस्कृति के साथ खिलवाड़ भी है। इससे कलाकारों में रोष है। प्रशासन एवं सरकार को ऐसे कार्यक्रम को निरस्त कर बृज से जुड़ी संस्कृति के कार्यक्रम आयोजित कराने चाहिए।