प्रावि बाद में शिक्षकों ने पिलाई पोलियो ड्रॉप

0
275

मथुरा। जनपद में चलाए जा रहे पल्स पोलियो अभियान के तहत परिषदीय विद्यालयों में भी रविवार को पोलियो की दवा पिलाई गई। इसमें परिषदीय शिक्षकों ने विद्यालय में पहुंचकर गांव के नन्हे मुन्ने बच्चों को दवा पिलाए जाने में सहयोग किया। गांव बाद के प्राथमिक विद्यालय में भी प्रधानाध्यापिका के साथ समूचे स्टाफ ने बच्चों को दवा पिलाई। प्रधानाध्यापिका नीरज मथुरिया ने बताया कि माता-पिता और परिजनों में पोलियो की दवा को लेकर काफी भ्रांतियां हैं। जबकि दवा का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है। वरन् यह दवा काफी कारगर साबित हो चुकी है। अतः लोगों को अपने 0-5 वर्ष तक की आयु के बच्चों को पोलियो ड्रॉप अवश्य पिलानी चाहिए। इससे बच्चों में पोलियो की बीमारी होने की संभावना नगण्य हो जाती है। कहा कि ‘एक भी बच्चा छूटा, संकल्प हमारा टूटा’ की शपथ के तहत विद्यालय स्टाफ कार्य कर रहा है। बताया कि उनके साथ पूरा स्टाफ भी विद्यालय में मौजूद रहा। इस दौरान सहायक अध्यापिका कुसुम रानी, आंगनबाड़ी, आशा कार्यकत्री सहित काफी संख्या में ग्रामीण भी अपने बच्चों के साथ मौजूद रहे।