सांस्कृतिक छटा के बीच आरंभ हुआ शिक्षक चिंतन शिविर

0
251

मथुरा। उप्र माध्यमिक शिक्षक संघ के तीन दिवसीय प्रान्तीय ग्रीष्मकालीन चिन्तन शिविर का रविवार को भव्य उद्घाटन के साथ शुभारंभ हो गया। शिविर में छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी गईं। वक्ताओं ने शिक्षकों को संबोधित किया। साथ ही शिक्षकों की समस्याओं और शैक्षिक गुणवत्ता के स्तर को बढ़ाने पर भी मंथन हुआ।
गायत्री तपोभूमि, जयसिंहपुरा (आकाशवाणी भवन के पास) में अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलित/ सरस्वती वंदना करके तीन दिवसीय शिविर का शुभारंभ हुआ। सर्वप्रथम अतिथियों पद्मश्री मोहनस्वरूप भाटिया, डायट मथुरा प्राचार्य मुकेश अग्रवाल, संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलपति राणा सिंह, डीआईओएस केपी सिंह, गोरखपुर-फैजाबाद स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के एमएलसी देवेंद्र प्रताप सिंह को संगठन के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश पांडेय, संयोजक अयोध्याप्रसाद अग्रवाल, प्रदेश महामंत्री लालमणि द्विवेदी एवं उपाध्यक्ष डॉ उमेशचंद त्यागी, स्वागताध्यक्ष डॉ देवप्रकाश ने बुके, शाल, माला, स्मृति चिन्ह एवं पटुका भेंट करके और प्रधानाचार्य निखिल अग्रवाल ने बेज़ लगाकर के स्वागत किया। महाराजा अग्रसेन कन्या इंटर कॉलेज की छात्राओं द्वारा प्रधानाचार्या श्रीमती अनीता जी के निर्देशन में सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम के दौरान डायट प्राचार्य डॉ मुकेश अग्रवाल जी का नागरिक अभिनंदन कर संगठन द्वारा मथुरा जिले में अच्छा कार्य करने वाले लगभग 100 पूर्व प्रधानाचार्यो, प्रबंधकों एवं समाजसेवियों को स्मृति चिन्ह एवं पटुका भेंट करके सम्मानित किया गया। उदबोधन देने वालों में लालमणि द्विवेदी, राणा सिंह, मुकेश अग्रवाल, मोहनस्वरूप भाटिया, देवेंद्र प्रताप सिंह रहे। अध्यक्षीय भाषण जगदीश पांडेय एवं धन्यवाद अयोध्याप्रसाद अग्रवाल ने दिया। कार्यक्रम में डॉ. विनोद बनर्जी, डॉ देशराज सिंह, डॉ महीपाल सिंह, नत्थाराम उपाध्याय, डॉ भगत सिंह, डॉ विमल प्रकाश यादव, अतुल जैन, कविता सक्सेना, अलका तिवारी, शारदा मिश्रा, डॉ टीपी सिंह, डॉ शिवराज भारद्वाज, डॉ. नीता सिंह, शिशु पाल सिंह, डॉ पल्लवी सिंह, यमुना चौधरी, सत्यवीर सिंह, उपकार गुप्ता, संजय खंडेलवाल सहित सैकड़ों गणमान्य शिक्षाविद/समाजसेवी उपस्थिति रहे।