नौकरी के नाम पर बेरोजगार युवकों को लगाते थे चूना, 5 शातिर दबोचे

0
752

मथुरा। भोले-भाले बेरोजगार युवक नौकरी न मिल पाने से इतने हताश हो चुके हैं कि कोई भी शातिर व्यक्ति इन्हें आसानी से चूना लगा जाता है। युवक भी आसानी से ठगों की चिकनी-चुपड़ी बातों में आ जाते हैं और अपने सपनों को पूरा करने के लिए लाखों रुपए शातिर ठगों को थमा देते हैं। मामले का खुलासा तब होता है जब ठग नौकरी तो लगवा नहीं पाते वरन् युवाओं को उनके पैसे वापस भी नहीं करते हैं। मांगने पर जान से मारने तक की धमकियां दी जाती हैं। ऐसे तमाम मामले सामने आने के बाद भी आज भी युवा ऐसे शातिर लोगों के हाथों की कठपुतली बना हुआ है। ऐसा ही एक ताजा मामला मथुरा जनपद में सामने आया। पुलिस ने 5 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। यह लोग युवाओं को नौकरी देने के बहाने उनसे ठगी करते थे। इनके कब्जे से नगदी, चेकबुक, पासबुक, फर्जी दस्तावेज सहित एक कार भी बरामद हुई है।


कोतवाली पुलिस ने गत दिवस एक बड़ी कार्यवाही करते हुए केआर इंटर कालेज के मैदान में खड़ी एक स्विफ्ट डिजायर कार को बरामद किया। इस कार में 5 लोग बैठे हुए थे। इनके पास मिले दस्तावेज पुलिस को संदिग्ध प्रतीत हुए तो पुलिस इन्हें पूछताछ के लिए कोतवाली ले आई। यहां पूछताछ में पांचों युवकों ने अपना नाम अमित कुमार पुत्र वीरेंद्र कुमार निवासी सिकंदरा आगरा, सिकंदर पुत्र सुलेमान निवासी रेलवे कालोनी जंगपुरा थाना निजामुद्दीन दिल्ली, गौतम पुत्र बलवीर निवासी टेढी बगिया थाना एत्माद्दौला आगरा, राजकुमार पुत्र ब्रहमादीन निवासी कोठी वंदना थाना बिठ्ठूर कानपुर एवं सकील पुत्र सत्तार खां निवासी जलेसर रोड थाना खंदौली आगरा बताया। कोतवाली प्रभारी केके तिवारी ने बताया कि पांचों शातिर बेरोजगार युवकों को अपना निशाना बनाते थे क्योंकि ऐसे युवक नौकरी पाने की तलाश में घूमते हैं। बेरोजगार युवकों से उनके शैक्षिक प्रमाण पत्र लेकर कई बार उन्हें फर्जी ज्वाइनिंग लैटर दे देते थे। इसके बाद वह फरार हो जाते।

यदि वह किसी की नौकरी नहीं लगवा पाते और युवक अपना पैसा वापस मांगते थे तो शातिर बदमाश बेरोजगार युवकों को टहला देते थे। तो कई बार दबाव पड़ने से जान से मारने तक की धमकी भी देते। बीते काफी दिनों से इनकी शिकायत मिल रही थी। बताया कि इस गैंग का सरगना अमित कुमार है। इनके कब्जे से 46,740 रुपए नगद, एक कार, 6 मोबाइल, 10 चैकबुक, 6 पासबुक, 14 सैट बिहार, बनारस, इलाहाबाद, हरियाणा बोर्ड के छात्रों के शैक्षिक दस्तावेज की प्रतिलिपियां, ज्वाइनिंग इंफार्मेशन शीट एवं रेलवे रिकू्रटमेंट बोर्ड नई दिल्ली के 14 सैट, 10 बडे़ पीले लिफाफे, 8 छोटे रजिस्ट्री लिफाफे, 3 पैड एवं 4 मोहर बरामद की गई हैं।

कोसीकलां में पकड़े गए 5 बदमाश

कोसीकलां में लूट को अंजाम देने वाले 5 शातिर गिरफ्तार

वहीं थाना कोसीकलां पुलिस ने भी लूट एवं वाहन चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले 5 बदमाशों को पकड़ने में सफलता हासिल की। इनके कब्जे से 7 चोरी की मोटरसाइकिल, एक तमंचा एवं नगदी बरामद की गई। पांचों अभियुक्त हरियाणा के जनपद पलवल के रहने वाले हैं। इनमें से मुख्य आरोपी पर लगभग एक दर्जन मुकदमे पंजीकृत हैं। साथ ही अन्य आरोपियों पर भी मुकदमे दर्ज हैं। एसपी देहात आदित्य कुमार शुक्ला ने बताया कि कोसीकलां पुलिस बीते काफी समय से इन बदमाशों की तलाश में जुटी थी। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि वांछित अपराधी हताना रेलवे क्रासिंग के समीप किसी वारदात को अंजाम देने के लिए छिपे हुए हैं। पुलिस ने सूचना मिलने पर छापा मार कार्यवाही करते हुए 5 लोगों को मौके से पकड़ लिया। इन्होंने पूछताछ में अपना नाम अनिल कुमार पुत्र पदम सिंह निवासी गढ़ी चौक थाना होडल पलवल, लखविंदर सिंह पुत्र दान सिंह निवासी गढ़ी चौक थाना होडल पलवल, सहदेव पुत्र विक्रम सिंह निवासी रोहतापट्टी थाना होडल पलवल, जितेंद्र पुत्र खेमचंद निवासी गढ़ी चौक थाना होडल पलवल एवं राहुल पुत्र रामजीलाल निवासी गढ़ी मोड़ थाना होडल पलवल हरियाणा बताया है। इनमें से अनिल पर 10 मुकदमे दर्ज हैं। जिनमें 8 थाना कोसीकलां में, 1 छाता में और 1 फरीदाबाद में पंजीकृत है। बताया कि इनके कब्जे से 3 अपाचे, 1 केटीएम आरएस 200, 1 स्पलैंडर, 1 पल्सर एवं प्लेटिना बाइक, एक तमंचा और 10200 रुपए नगद बरामद किए हैं। बताया कि उक्त अभियुक्तों ने थाना कोसीकलां क्षेत्र में पनीर व्यापारी से 80 हजार रुपए की लूट, अपाचे बाइक लूट सहित अन्य घटनाओं को अंजाम दिया था।