महिला शिक्षिका हुई बेहोश, शिक्षामित्र पर लगाए गंभीर आरोप

0
614

मथुरा। विकासखंड गोवर्धन के अडींग स्थित कंचनपुर प्राथमिक विद्यालय की सहायक अध्यापिका सोमवार की सुबह विद्यालय के कक्ष में ही बेहोश मिली। जानकारी होने पर उसे पहले स्थानीय अस्पताल और फिर निजी अस्पताल में भर्ती
कराया गया। शिक्षिका ने विद्यालय में ही कार्यरत महिला शिक्षामित्र पर गंभीर आरोप लगाते हुए पत्र भी लिखा है। इसमें
खंड शिक्षा अधिकारी पर भी शिकायत न करने के बाद भी कार्यवाही न करने का आरोप है।


  1. कंचनपुर प्राथमिक विद्यालय में राधा शर्मा सहायक अध्यापिका के रुप में कार्यरत हैं। उनका आरोप है कि उनके विद्यालय में कार्यरत महिला शिक्षामित्र यशोदा उन्हें मानसिक रुप से प्रताड़ित कर रही है। वह ज्यादातर विद्यालय में नहीं आती है। यह सूचना एनपीआरसी सहित अन्य अधिकारियों को दी गई लेकिन उन्होंने कोई कार्यवाही नहीं की। इससे शिक्षामित्र के हौंसले बुलंद हो गए और अब वह स्कूल में खड़े होकर स्वयं व अपने रिश्तेदारों को बुलाकर धमकी देने लगी है। विद्यालय उपस्थिति रजिस्टर के पेज फाड़ देना, सभी रजिस्टर अपने पास रखना, स्कूटी की चाबी नाली में फेंक देना आदि आम बात है। इसकी शिकायत खंड शिक्षा अधिकारी गोवर्धन को भी दी गई लेकिन उन्होंने कोई कार्यवाही नहीं की। इससे महिला शिक्षक डिप्रेशन में आ गई है। इसका उपचार आगरा से चल रहा है। राधा शर्मा ने पत्र के अंत में स्कूल की बात स्कूल में ही खत्म करने की बात कही है। बताया जा रहा है कि इसके बाद ही उन्होंने कोई विषऐला पदार्थ का सेेेवन कर लिया। पहले तो स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र पर भर्ती कराया। इसके बाद तबियत बिगड़ने पर उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां उनकी हालत खतरे से बाहर बताई गई। शिक्षिका के परिजनों ने समाचार लिखे जाने तक कोई कार्यवाही नहीं की थी। बीएसए का चार्ज देख रहे एबीएसए जेपी सुमन ने विषबाण को बताया कि उन्हें घटना की जानकारी नहीं मिल सकी है। वह जानकारी करने के बाद ही इस बारे में कुछ कह सकेंगे।