कोसीकलां में धमकी भरे पत्रों ने फैलाई सनसनी, पुलिस बल तैनात

0
1915

मथुरा। कस्बा कोसीकलां में बुधवार की देरशाम अचानक उस समय हड़कंप मच गया। जब कोसीकलां के तीन प्रतिष्ठित नागरिकों के आवास पर लिफाफों में एक धमकी भरा पत्र भेजा गया। पत्र में लिखी गई भाषा ने तीनों संभ्रात नागरिकों के साथ-साथ पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के होश उड़ा दिए हैं। वहीं स्थानीय नागरिकों में भी इसे लेकर तरह-तरह की चर्चाएं जन्म ले रही हैं। इस संबंध में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।


कोसीकलां में भाजपा नेता तरुण सेठ, पूर्व चेयरमैन भगवत प्रसाद रुहेला, डॉ. नरेश मंगला को बुधवार को तीन लिफाफे मिले हैं। इनमें एक जैसे ही पत्र रखे हुए थे। तीन पेज के इस पत्र में हिंदू धर्म के लोगों को काफिर बताते हुए धमकियां दी गई हैं। हिंदू और गाय का सर कलम करने की धमकी दी गई है। लिखा है कि हिंदुस्तान काफिरों का मुल्क है। अरसों से यहां की काफिर हिंदू कौम अपने ही मुल्क के मुसलमानों को पैरों तले रौंद रही है। ऐ काफिरों, अब दिन आ गए हैं। पूरे मुल्क की अवाम यह देख रही है कि कुछ सालों से केरल, हैदराबाद, असम, केरल, पश्चिम बंगाल, मुंबई और यूपी के बरेली, फैजाबाद, प्रतापगढ़, कुंडा, मेरठ, बनारस आदि शहरों में किस तरह हमारे इस्लामी जेहादियों ने अपनी छोटी-बड़ी सभी तहरीकों में फतह हासिल की है। खबरदार काफिरों, अब तुम्हारी शामत आ चुकी है। इंशा अल्लाह वो दिन अब दूर नहीं, जब हिंदुस्तान की फिजाओं में चारों ओर इस्लाम ही इस्लाम दिखाई देगा। पत्र में कांग्रेस, सपा, बसपा और तृणमूल कांग्रेस के हाईकमान को अपना बताते हुए लिखा है कि अल्लाहतआला ने इन सबों को रहम दिल बनाया है।

काफिरों तुम्हें कफन तक नसीब नहीं होगा। तुम्हारे आशियां की जीनतों को हम अपने बिस्तर पर सजाएंगे। उनका पूरा ध्यान रखेंगे आदि भड़काऊ शब्दों का भी प्रयोग किया गया है। पत्र को भेजने वाले का कोई नाम नहीं है। पत्र पर हापुड पोस्ट ऑफिस की मुहर लगी है। इस तरह के पत्र मिलने के बाद पुलिस के साथ खुफिया विभाग भी कोसीकलां में सक्रिय हो गया है। वर्ष 2012 में कोसी दंगे को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने सतर्कता बढ़ा दी है। कस्बा में तनाव और दहशत का माहौल बना हुआ है। डाक विभाग की कार्यप्रणाली पर भी आम जनता प्रश्नचिन्ह लगा रही है। डॉ नरेश मंगला की तहरीर पर थाना कोसीकलां में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। थाना प्रभारी कोसीकलां रवि त्यागी ने बताया कि डॉ. नरेश मंगला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।