भाजपा नेता के भाई की धमकी से गुस्साए व्यापारी, किया आंदोलन का ऐलान

0
532

मथुरा। जिले में वैश्य समाज और व्यापारी वर्ग के साथ आए दिन हो रही अभद्रता के खिलाफ व्यापारी संगठन एकजुट हो रहे हैं। उन्होंने आगामी दिनों में बैठक आयोजित कर आंदोलन को रणनीति बनाने का ऐलान किया है। व्यापारी वर्ग की एकजुटता और संघर्ष लोकसभा चुनाव में समीकरण के नए गुल खिला सकता है।
जिले के कस्बा बाजना में आयोजित हेमामालिनी की जनसभा में उप्र उद्योग व्यापार मंडल के जिला महामंत्री मुकेश

कुमार वाष्र्णेय के साथ भाजपा के एक पदाधिकारी के भाई द्वारा की गई दबंगई से व्यापारी समाज काफी उद्वेलित है। व्यापारी नेता को खुलेआम गोली से उड़ाने की धमकी मिलने से व्यापारी वर्ग काफी आक्रोशित है। सुरीर बिजऊ के पूर्व प्रधान एवं बडे़ व्यापारी दिलीप गुप्ता और उनके परिवार के खिलाफ चौथ वसूली का मुकदमा दर्ज कराया गया है। व्यापारियों का आरोप है कि यह मुकदमा फर्जी लगाया गया है। इन घटनाओं से भाजपा के खिलाफ व्यापारियों में काफी आक्रोश दिख रहा है। इसे लेकर उप्र उद्योग व्यापार मंडल ने 3 अपै्रल को वृंदावन छटीकरा रोड स्थित श्रीकृष्ण आश्रम में दो बज से एक आपातकालीन बैठक आहूत की गई है। उप्र उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष शिवशंकर वर्मा ने बैठक में सभी व्यापारियों से अपने ऊपर हो रहे उत्पीड़न के विरोध में एकजुट होने का अनुरोध किया है। घटना की जानकारी संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारियों को भी दी गई है। यदि आवश्यक हुआ तो राष्ट्रीय और प्रदेशस्तरीय व्यापारी नेताओं का भी सहयोग लिया जाएगा। संगठन के वरिष्ठ प्रांतीय उपाध्यक्ष बालकिशन अग्रवाल कहते हैं कि दबंगों द्वारा व्यापारियों को डराया धमकाया जा रहा है। थाने में फर्जी मुकदमे दर्ज कराए जा रहे हैं। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी इस संबंध में सुनने के लिए तैयार नहीं है। अब तो हालात यह हो गए हैं कि प्रदेश में सत्ताधारी पार्टी भाजपा के ही पदाधिकारी और कार्यकर्ता व्यापारियों को डरा धमका रहे हैं। उत्पीड़न कर रहे हैं जबकि सत्ता से उम्मीद थी कि वह व्यापारियों के सहयोग के लिए आगे आएगी। इससे व्यापारियों की समझ में नहीं आ रहा है कि वह क्या करें। यही कारण है कि 3 अपै्रल को व्यापारियों की एक आवश्यक बैठक आहूत की गई है।