हेमा-श्रीकांत के बीच तनाव दूर करने को संघ ने झोंकी ताकत

0
825

मथुरा। भाजपा में लगातार चल रही गुटबाजी कहीं लोकसभा चुनाव प्रत्याशी की जीत में रोड़ा न अटका दे। इसे ध्यान में रखते हुए अब भाजपा हाईकमान के साथ आरएसएस भी सक्रिय हो गया है। गुटबाजी को खत्म कराने के लिए आरएसएस के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने दोनों के बीच की कड़वाहट दूर कराने का प्रयास किया। इसे लेकर वृंदावन स्थित हेमामालिनी के आवास पर बैठक आयोजित की गई। यहां हेमामालिनी के साथ साथ ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा अपने समर्थकों के साथ मौजूद रहे।
जनपद के भाजपा नेता विगत काफी समय से दो गुटों में बंटे नजर आ रहे थे। भाजपा द्वारा लोकसभा प्रत्याशी घोषित किए जाने के बाद भी यह गुटबाजी खत्म नहीं हुई थी। वरन् सीएम योगी आदित्यनाथ की सभा की तैयारियों को लेकर आयोजित बैठक में दोनों पक्षों के बीच जमकर बहस भी हुई थी। इस गुटबाजी की जानकारी कई बार भाजपा हाईकमान को भी दी गई। हाईकमान द्वारा मिले निर्देशों के बाद भी दोनों पक्षों में यह तल्खी खत्म होती नजर नहीं आई तो इसे दूर करने के लिए अब राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने अपने हाथों में ले लिया है। गत दिवस वृंदावन स्थित हेमामालिनी के आवास पर आरएसएस के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने सांसद प्रत्याशी हेमामालिनी और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा के बीच समझौता कराने का प्रयास किया। इस बारे में भाजपा हाईकमान से भी दोनों को एकजुट होकर लोकसभा चुनाव में जीत पाने के लिए जुटने के दिशा निर्देश दिए। ताकि किसी भी परिस्थिति में इस लड़ाई का लाभ अन्य प्रतिद्वंदियों को न मिले। भाजपा सूत्रों की मानें तो आरएसएस के कड़े रवैये और भाजपा हाईकमान से मिले निर्देशों के बाद दोनों की बीच की तल्खी कुछ कम होती दिख रही है। बुधवार को श्रीकांत शर्मा ने हेमामालिनी के आवास पर आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में शिरकत की। हालांकि वह गोवर्धन और मथुरा-वृंदावन विधानसभा में हेमामालिनी के प्रचार प्रसार के दौरान नजर नहीं आए। इसी क्रम में अब गुरुवार को भी एक बैठक डेंपियर नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर में आयोजित की गई है। प्रचार प्रसार के दौरान जिलाध्यक्ष नगेंद्र सिरकवार, महानगर अध्यक्ष चेतनस्वरुप पाराशर, पूर्व सांसद एवं उप्र सहकारी संघ अध्यक्ष तेजवीर सिंह, पूर्व मंत्री एवं व्यापार कल्याण बोर्ड चेयरमैन रविकांत गर्ग, मेयर डाॅ. मुकेश आर्यबंधु, राजकुमार अग्रवाल मांट वाले, राजेश चैधरी, पूर्व जिलाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण पाठक सहित अन्य मौजूद रहे। हेमामालिनी स्वयं सभी स्थानों पर मौजूद रहीं और उन्होंने जनता से अपने पक्ष में वोट करने की अपील की।