फर्जी दाखिला कर ITI कॉलेज ने हड़पी छात्रवृत्ति, संचालक सहित अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

0
465

Opमथुरा। जनपद में कथित विद्यालय संचालकों द्वारा अनुसूचित के छात्र-छात्राओं के फर्जी दाखिले कर छात्रवृत्ति हड़पने का खेल थमने का नाम नहीं ले रहा है ताजा मामला फरह क्षेत्र का सामने आया है जहां आईटीआई कॉलेज प्रबंधतंत्र द्वारा दलित छात्र का फर्जी तरीके से पंजीकरण कर 22 हजार की छात्रवृत्ति को हड़प कर लिया गया। पीड़ित छात्र की शिकायत पर कॉलेज के संचालक, प्रधानाचार्य सहित अन्य लोगों के खिलाफ थाना फरह में धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

कस्बा बरसाना के जाटव मौहल्ला निवासी धर्मवीर पुत्र बालकिशन जाटव ने वर्ष 2018-19 में आगरा के राजा बलवन्त सिंह (आरबीएस) कॉलेज में बीटेक द्वितीय वर्ष में दाखिला लेकर जब छात्रवृत्ति के लिये ऑनलाइन पंजीकरण कराने का प्रयास किया तो मालूम हुआ कि उसका दाखिला कैप्टन भंवर सिंह आईटीआई कॉलेज निकट टोलटैक्स एन.एस.2 फरह में आईटीआई में दर्शाकर 22 हजार की राशि बैंक खाते से निकाल ली गई। जिससे उसे बीटेक की छात्रवृत्ति 88 हजार की राशि नहीं मिल सकी। जबकि उक्त छात्र द्वारा आईटीआई कॉलेज में दाखिला के लिये कोई आवेदन ही नहीं किया गया।

पीड़ित छात्र ने इसकी शिकायत समाज कल्याण विभाग मथुरा एवं थाना फरह में की लेकिन कोई कार्यवाही ना होने पर वरिष्ट पुलिस अधीक्षक मथुरा से की गई। जिसके बाद आईटीआई कॉलेज के संचालक उदयवीर चौधरी, प्रधानाचार्य उमेश जादौन सहित अन्य लोगों के खिलाफ धारा 420, 467, 468, 471 के अन्तगर्त थाना फरह में दर्ज हो सकी। बताया जाता है कि फर्जी दाखिला कर छात्रवृत्ति हड़प किये जाने की खुलासा होने एवं पीड़ित छात्रा द्वारा शिकायत किये जाने पर कॉलेज प्रबंधतंत्र पीड़ित छात्र पर समझौते का दबाब बनाने में लगा हुआ है। वहीं फरह पुलिस दोषियों को गिरफ्तार करने से बच रही हैं जिससे पीड़ित छात्र भयभीत हैं। बताते हैं कि उक्त कॉलेज संचालक द्वारा सैकड़ों छात्रों की छात्रवृत्ति को समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों की सांठ-गांठ से हड़प किया गया है। इस सम्बंध में कॉलेज संचालक उदयवीर चौधरी ने विषबाण से बातचीत में कहा कि शिकायत कर्ता छात्र द्वारा 2016 में विद्यालय में दाखिला लिया गया था। जिसके बाद छात्र ने दूसरे विद्यालय में दाखिला ले लिया। इस संबंध में परिवार से समझौते की बातचीत हो रही है और इसमें विद्यालय का कोई दोष नही हैं। इससे पूर्व भी उर्जित इन्फोटेक कम्प्यूटर सेन्टर डैम्प्यिर नगर मथुरा के खिलाफ 11 लाख करीब की छात्रवृत्ति घोटाले की रिपोर्ट गत दिवस कोतवाली मथुरा में दर्ज कराई गई थी। बताया जाता है कि विद्यालय संचालक उदय चौधरी सरकारी शिक्षक हैं।