यमुना एक्सप्रेस-वे पर लूट : पत्रकार के भतीजे-वधू सहित 5 गिरफ्तार

0
1230

मथुरा। यमुना एक्सप्रेस वे पर दो अलग-अलग हुई लाखों के सोने-नगदी की लूट का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक महिला सहित पांच लुटेरों की लूटी गई कार एवं आभूषण सहित गिरफ्तार किया है। पकड़े गये बदमाशों में एक पत्रकार का भतीजा एवं भतीजा वधु भी शामिल बताये जा रहे हैं।

आगरा-नोयडा यमुना एक्सप्रेस वे पर मांट थाना क्षेत्र में नोयडा के परी खौक से स्विफ्ट डिजायर गाड़ी में सवारी बनकर सवार हुए बदमाशों ने 10 अक्टूबर 2019 को कार एवं नगदी को लूट लिया गया था। इस घटना से पुलिस उबर भी नहीं पायी थी कि बदमाशों ने पुलिस को चुनौती देते हुए 13-14 अक्टूबर को नौहझील थाना क्षेत्र में स्विफ्ट डिजायर सवार ज्वैलर्स के चालक से करीब 15 लाख का सौना और कार को लूट लिया गया। तीन दिन के अन्तराल एक ही तर्ज पर हुई दोनों लूटों को लेकर पुलिस कार्य प्रणाली एवं कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लग रहे थे।

पुलिस ने दोनों घटनाओं के खुलासे के लिये सर्विलांस का सहारा लेते हुए पीछा करना शुरू किया तो पता चला कि लूट में शामिल अपराधी आस-पास के क्षेत्र के ही हैं। जिसके आधार पर पुलिस ने यमुना एक्सप्रेस वे पर अपराधियों को गिरफ्तार के लिये घेराबन्दी शुरू कर दी। जिसमें पुलिस के गन्दे नाले से यमुना एक्सप्रेस वे पर लूट की योजना बनाते हुए सर्विस रोड से मांट क्षेत्र से लूटी गई कार के साथ दो बदमाश रवि शर्मा पुत्र सुभाष चन्द शर्मा निवासी रायपुर थाना जवां हाल निवासी 38 पीएसी रामघाट रोड़ क्वारसी अलीगढ़ व हेमन्त फौजदार पुत्र दीप चन्द फौजदार निवासी सिनसिनी थाना डींग भरतपुर हाल निवासी मौहल्ला नई बस्ती रावण टीला कस्बा जट्टारी अलीगढ़ को तमंचा कारतूस सहित पकड़ने के बाद हुई पूछताछ में गिरोह के अन्य सदस्यों के नामों का खुलासा किया जिसके बाद पुलिस ने खोना उर्फ चन्द्रवती उर्फ चंचल पत्नी दीपक उर्फ धर्मेन्द्र कपिल पुत्र मुनेश निवासी जटतौली रोड, जट्टारी हिमन्त पुत्र जल सिंह निवासी जटतौली मोड़ माधो नगर कस्बा जट्टारी थाना टप्पल जिला अलीगढ़ को नौहझील क्षेत्र में लूटी गई कार, सोने के आभूषण, आभूषण का बैग, चालाक का ड्राइविंग लाइसेंस, दो सोने की चैन, तमंचा, कारतूस सहित गिरफ्तार किया गया है।

जानकार सूत्र बताते हैं कि कपिल चैधरी एवं चन्द्रवती जहां दोनों देवर-भाभी हैं। वहीं दोनों अलीगढ़ जनपद के कस्बा जट्टारी निवासी को दैनिक समाचार पत्रों का प्रतिनिधित्व करने वाले पत्रकार सगा भतीजा एवं वधू हैं। बताते हैं कि कपिल का बड़ा भाई दीपक कस्बे के ही एक युवक को पूर्व में गोली मारकर घायल कर चुका है। जो वर्तमान में अलीगढ़ जेल में है। घटना का खुलासा करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक प्रदीप कुमार, सर्विलांस प्रभारी राजन पुण्डीर, उप निरीक्षक ऐशवीर सिंह, मनिन्द्र सिंह, दीपक दौहरे, राजवीर सिंह यादव आदि शामिल थे।

सवारी बन कर करते थे लूट :-

अभियुक्तगणों द्वारा रात्रि के समय अकेले कार मालिक/ड्राइवर को देखकर  सवारी के रूप में गोतम बुद्ध नगर परीचौक से गाडी में बैठ जाना यमुना एक्सप्रैसवे पर जेवर टोल प्लाजा पार करने के उपरान्त  ड्राइवर को तमंचे के बल पर डरा धमका कर अपने कब्जे में कर लेना चूँकि अभियुक्तगण टप्पल जनपद अलीगढ के हैं आस पास की भौगोलिक स्थिति की जानकारी होने के कारण एक्सप्रैसवे से उतरकर नीचे किसी भी रास्ते पर कार को घुमा फिराकर ड्राईवर को फेंक देना तथा कार व कार में रखे सामान को लूट कर ले जाते थे।