मथुरा का चर्चित सेक्स कांडः अय्याश अफसर ने किया समर्पण, महिला का फिर होगा मेडिकल

0
1620

मथुरा। कस्बा फरह में एक महिला के साथ बलात्कार करने के आरोपी कृषि विभाग के फार्म अधीक्षक ने आखिरकार कोर्ट में सरेंडर कर दिया। वहीं मथुरा चिकित्सालय में रेप पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट में खेल करने के आरोपों के बाद अब उसका मेडिकल आगरा स्थित एसएन मेडिकल कालेज में कराया जाएगा। वहीं पुलिस ने धाराओं में खेल करते हुए आरोपी को बचाने का पूरा इंतजाम कर लिया है।

हाल ही में कस्बा फरह निवासी एक महिला ने कृषि विभाग में कार्यरत फरह में ही तैनात फार्म अधीक्षक के खिलाफ बलात्कार करने और नाबालिग पुत्री के साथ शारीरिक छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए थाना फरह में मुकदमा दर्ज कराया था। साथ ही महिला का अश्लील वीडियो भी वायरल कर दिया गया था। मुकदमा दर्ज होने के बाद भी पुलिस ने जहां आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया। वहीं महिला के चिकित्सकीय मुआयने में खेल करते हुए रिपोर्ट में बलात्कार न होना दर्शाया गया। जबकि वीडियो में स्पष्ट शारीरिक संबंध बनाते हुए देखा जा सकता है। महिला ने जांच रिपोर्ट पर सवाल उठाते हुए फिर से मेडिकल कराने के लिए आवेदन किया। अब महिला का मेडिकल एसएन मेडिकल कालेज आगरा में कराया जाएगा। इसके साथ ही फार्म अधीक्षक को गिरफ्तार किए जाने का दबाव पुलिस पर पड़ा तो पुलिस ने फार्म अधीक्षक को पकड़ने के लिए दबिशें देना शुरु कर दिया। इससे घबराकर आरोपी ने गत दिवस कोर्ट में सरेंडर कर दिया। हालांकि पुलिस अभी आरोपी को बचाने का प्रयास कर रही है। पीड़ित महिला के अधिवक्ता ठाकुर मदनगोपाल सिंह का आरोप है कि फरह पुलिस पूरी तरह आरोपी के इशारे पर काम कर रही है। महिला के साथ बलात्कार करने की धारा 376 को हटा दिया गया है। साथ ही पाक्सो एक्ट भी हटाते हुए धाराएं कमजोर कर दी गई हैं। ताकि आरोपी को कोर्ट में राहत मिल जाए और महिला का केस कमजोर हो जाए। इस संबंध में हम विवेचना को स्थानांतरित कराने के प्रयास में हैं। ताकि निष्पक्ष जांच होकर दोषी के खिलाफ सख्त कार्यवाही हो सके।