हवा में उड़ रहा भाजपा सदस्यता अभियान

0
294

मथुरा। प्रदेश में भाजपा द्वारा चलाए जा रहे सदस्यता अभियान जमीन पर कम, हवा में अधिक नजर आ रहा है। दस करोड़ नए सदस्य बनाने का दावा हवा हवाई साबित हो रहा है। नए सदस्य बनाने की जगह पुराने ही सदस्यों को फिर से सदस्य बनाया जा रहा है। यह सदस्य सदस्यता ग्रहण करने के बाद फोटोयुक्त सदस्यता कार्ड को सोशल मीडिया पर वायरल भी कर रहे हैं। समापन तक मथुरा जनपद में ही एक लाख से अधिक सदस्य बनाने का लक्ष्य है। ऐसे में भाजपा हाईकमान के नए सदस्य बनाने की योजना को पलीता लग रहा है।


भारतीय जनता पार्टी ने हाल ही में देश भर में सदस्यता अभियान चलाने का ऐलान किया था। यह अभियान 6 जुलाई से आरंभ होकर 11 अगस्त तक चलना है। सदस्यता अभियान के तहत आम लोगों के लिए एक मोबाइल नंबर 8980808080 जारी किया गया है। जिस व्यक्ति को भाजपा की सदस्यता लेनी है उसे इस नंबर पर मिस कॉल करनी होगी। इसके बाद उसे अपनी जानकारियां देनी होंगी। आवश्यक जानकारी देने के बाद उस व्यक्ति के नंबर पर मैसेज आता है। इसके बाद ‘आपका बीजेपी में स्वागत है’ का मैसेज भी आता है। इस तरह आम आदमी भाजपा की सदस्यता ले सकता है। इसी अभियान को स्थानीय भाजपा नेता पलीता लगा रहे हैं।

नए सदस्य बनाने की जगह भाजपा पुराने ही सदस्यों को फिर से सदस्य बनाया जा रहा है। पुराने सदस्य भी धड़ल्ले से बडे़ उत्साह से सदस्यता ग्रहण कर रहे हैं। जबकि नए लोगों को भाजपा से जोड़ने में उदासीनता दिखाई जा रही है। पुराने सदस्यों में सरस्वती विद्या मंदिर के प्रधानाचार्य रहे सुरेश चंद शर्मा, सहकारी संघ के अध्यक्ष मेघश्याम सिंह, भाजयुमो जिलाध्यक्ष यज्ञदत्त कौशिक, पूर्व जिला मंत्री मुकेश वार्ष्णेय, भाजयुमो नेता राहुल सिंह राजावत, भाजपा पदाधिकारी अनिल कुमार सोनी समेत काफी सारे नेता शामिल हैं।

यहां विषबाण कुछेक नेताओं के नाम ही बता रहा है। वहीं विषबाण को सरकारी कर्मचारियों द्वारा भाजपा की सदस्यता लेने की भी जानकारी मिली है। इसमें एक सरकारी कर्मी तो नगर निगम में ही कार्यरत है। इसका नाम महेश चंद काजू है। इनके भाई डॉ. मुकेश आर्य बंधु भाजपा से नगर निगम के मेयर भी है। महानगर भाजपा ने शहर में 1 लाख सदस्य बनाने की योजना तैयार की है। इसमें से 25 हजार सदस्य अब तक बनाए जा चुके हैं।

भाजपा के महानगर सदस्यता प्रमुख राजकुमार अग्रवाल मांट वाले ने बताया कि पुराने सदस्य भी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर रहे हैं लेकिन उनकी सदस्यता संख्या पुरानी ही है। जब उनसे नगर निगम के सरकारी कर्मचारी महेश काजू के सदस्यता ग्रहण करने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि पार्टी सरकारी कर्मचारियों पर सदस्यता ग्रहण करने के लिए दबाव नहीं बना रही है। यदि किसी ने स्वेच्छा से सदस्यता ली है तो इसकी जानकारी उन्हें नहीं हैं। जिला सदस्यता प्रमुख प्रभात चौधरी से वार्ता करने का प्रयास किया गया लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका। भाजयुमो जिलाध्यक्ष यज्ञदत्त कौशिक से संपर्क किया गया लेकिन उनसे भी वार्ता नहीं हो सकी।