भट्टा मालिक ने मजदूर दंपत्ति को पीटा, एसएसपी से लगाई गुहार

0
994
पीड़ित प्रेमपाल

मथुरा। कस्बा सुरीर के एक मजदूर के मजदूरी मांगने पर दबंग भट्टा स्वामी ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसकी जमकर पिटाई कर दी। बीच बचाव करने आई मजदूर की पत्नी के साथ भी मारपीट और अभद्रता भी की। पुलिस ने मजदूर का मेडिकल तो करा लिया लेकिन 3 दिन के बाद भी उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं हो सकी है। पीड़ित ने एसएसपी से इसकी शिकायत की है।
थाना सुरीर अंतर्गत सुरीर कलां निवासी प्रेमपाल पुत्र आशा सुरीर बिजऊ स्थित रावत ईंट भट्टा पर ईंट भराई का काम करता है। उसने कुछ दिनों पूर्व भट्टा स्वामी भगवती पुत्र मोहन श्याम से अपनी मजदूरी के पैसे मांगे। इस पर भट्टा मालिक ने उसे बाद में हिसाब करने और काम करने के लिए कहा। प्रेमपाल का आरोप है कि 26 जून की सुबह करीब 8 बजे जब वह अपने घर बैठा हुआ था तो भगवती और उसका भाई ललित दोनों उसके घर पहुंचे। यहां उन्होंने जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए गालियां देना शुरु कर दिया। विरोध करने पर मारपीट करते हुए कहने लगे कि अभी तक काम करने के लिए भट्टे पर क्यों नहीं पहुंचा और फावडे़ के बेंट से काफी मारा। जब बीच बचाव करने के लिए प्रेमपाल की पत्नी सीमा आगे आई तो उसे भी धक्का देकर गिरा दिया और मारपीट करते हुए उसके कपड़े अस्त-व्यस्त करते हुए अभद्रता की। शोर मचने पर दोनों भाग खड़े हुए।

मारपीट के बाद वह थाना सुरीर पहुंचा। यहां पुलिस ने उसका मांट सामुदायिक केंद्र पर मेडिकल कराया। लेकिन इसके बाद थाना सुरीर पुलिस उसका मुकदमा दर्ज नहीं कर रही है। वरन् थाना प्रभारी सुरीर ने उसे गाली देकर थाने से भगा दिया। पीड़ित प्रेमपाल का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज न होने से आरोपियों के हौसले बुलंद हो गए हैं। वह उसे पुलिसिया कार्यवाही करने पर जान से मारने की धमकियां दे रहे हैं। साथ ही समझौते के लिए दबाव बना रहे हैं। पीड़ित प्रेमपाल शुक्रवार को किसी तरह अपनी पत्नी के साथ एसएसपी शलभ माथुर से इसकी शिकायत करने के लिए पहुंचा। एसएसपी ने पीड़ित को उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया है। थाना प्रभारी अनूप सरोज ने बताया कि पीड़ित प्रेमपाल का मेडिकल पुलिस द्वारा ही कराया गया था। प्रकरण की जांच की जा रही है। जांच में मिले तथ्यों के आधार पर उचित विधिक कार्यवाही की जाएगी।