मथुरा में सराफ के घर दिनदहाड़े लाखों की लूट

0
183

मथुरा। शहर की पॉश एवं सुरक्षित कही जाने वाली कालोनी गोविंदनगर में रविवार की सुबह में दिन दहाड़े लूट होने से शहर में हड़कंप मच गया। बदमाशों ने सराफ परिवार को बंधक बनाकर करीब 45 मिनट तक पूरा घर इत्मीनान से खंगाला। इसके बाद हथियारों के बल पर लाखों की लूट को अंजाम देकर आराम से सुरक्षित घर से निकल गए। दिनदहाड़े सराफ के घर में हुई लूट से नगर में दहशत व्याप्त हो गई है। लोगों के जेहन में शहर के बीचोंबीच होलीगेट अंदर कोयलावाली गली में हुए सराफाकांड की यादें ताजा हो गईं।


थाना गोविंदनगर निवासी सराफा व्यापारी अनिल गर्ग के घर में रविवार की सुबह करीब साढे़ दस बजे कुछ हथियारबंद बदमाश घुस आए। उन्होंने पूरे परिवार को हथियारां के बल पर बंधक बना लिया। इसके बाद करीब 45 मिनट तक उन्होंने पूरे घर को आराम से खंगाला। जो भी उनके हाथ लगा। वह सब लूट लिया। इसमें लाखों के सोने-चांदी के जेवरात सहित नगदी भी बताई जा रही है। इसके बाद आराम से ही फरार हो गए। बदमाशों के जाने के बाद पीड़ित परिवार ने पुलिस को घटना की सूचना दी। दिनदहाड़े सराफ के घर में लूट होने की सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। फोर्स के साथ पुलिस अफसर मौके पर पहुंचे। घटना के संबंध में पीड़ित परिवार से जानकारी जुटाई। पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाल रही है। बदमाशों की संख्या 3 बताई जा रही है। पीड़ित व्यापारी अनिल गर्ग जेएम पायल के नाम से मंडी रामदास में फर्म है।


योगी सरकार में कान्हा की नगरी में यह दूसरा सराफा कांड है। इससे पहले प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के कुछ दिन बाद ही होलीगेट के अंदर कोयलावाली गली में ज्वैलर्स की दुकान पर पडी डकैती के बाद मथुरा दहल गया था। इस डकैती में दो युवा कारोबारियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। साथ ही बदमाश करोड़ों का माल लूट कर ले गए थे। यह कांड प्रदेश भर में गूंजा था। खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले पर संज्ञान लिया था। इस कांड का खुलासा करने पर भी सवाल उठे थे। अब रविवार को एक बार फिर एक सराफा को बदमाशों द्वारा निशाना बनाए जाने से व्यापारियों में दहशत फैल गई है। वह अपनी सुरक्षा को लेकर सवाल उठाने लगे हैं।