देवी मां को खुश करना है तो पूजा में पहनें इन रंगों के कपड़े

0
160

मथुरा। हिंदू धर्म में नवरात्र का बहुत महत्व माना जाता है। आस्था और आराधना का यह पर्व छह अप्रैल ;कलद्ध से शुरू हो रहा है। बाजार पूरी तरह सज चुके हैं। भक्तों ने भी पूरे 9 दिन व्रत रहने के साथ ही पूजा की भी तैयारियां शुरू कर दी हैं। बता दें कि नवरात्र में हर दिन देवी मां के अलग-अलग स्वरूप की पूजा की जाती है लेकिन क्या आपको पता है कि पूजा करने के लिए मां के प्रत्येक अलग स्वरूप के अनुसार कपड़ों के रंग का चयन करना भी बेहद शुभ माना जाता है। रंगों का हमारे देवी-देवताओं, पर्वों और त्योहारों से विशेष जुड़ाव है। हर देवी और देवता को कोई न कोई रंग प्यारा होता है। आइए जानते हैं कि नवरात्र पर्व में प्रत्येक दिन किस रंग के कपड़े धारण करें। प्रत्येक अलग दिन के अनुसार कपड़े पहनकर आप माता रानी की विशेष कृपा प्राप्त कर सकते हैं।

शैलपुत्री
नवरात्र का पहला दिन प्रतिपदा का दिन कहलाता है। इस दिन नवदुर्गाओं में प्रथम शैलपुत्री का पूजन किया जाता है। पर्वतराज हिमालय की पुत्री माता शैलपुत्री की पूजा करते समय पीले रंग के कपड़े पहन कर पूजा करने से लाभ मिलता है।

ब्रह्मचारिणी
नवरात्र के दूसरे दिन माता ब्रह्मचारिणी की उपासना की जाती है। इस दिन पूजा के दौरान और बाद में भी हरे रंग की पोशाक पहननी चाहिए।

चंद्रघंटा
नवरात्र के तीसरे दिन मां दुर्गा के तीसरे रूप माता चंद्रघंटा का पूजन होता है। इस दिन ग्रे ‘स्लेटी’ रंग के कपड़े पहन कर पूजा करने से देवी मां प्रसन्न होती है और आपके सारे बिगड़े काम बनने लगेंगे।

कुष्मांडा
नवरात्र के चैथे दिन दुर्गा मां के चैथे रूप माता कुष्मांडा की आराधना की जाती है। इस दिन को बहुत पवित्र माना जाता है। मां कुष्मांडा को नारंगी रंग बहुत प्रिय है। इसलिए इस दिन नारंगी रंग के कपड़े पहन कर पूजा करनी चाहिए।

स्कंदमाता
नवरात्र के पांचवें दिन माता स्कंदमाता की पूजा-अर्चना की जाती है। स्कंदमाता की श्रद्धा भाव से पूजा करने वाले की सारी इच्छाएं पूरी होती है। इस दिन देवी मां की पूजा करते समय सफेद रंग के कपड़े पहनना शुभ होता है।

कात्यायनी
दुर्गा मां का छठा रूप माता कात्यायनी है। भक्तों को इस दिन लाल रंग के कपड़े पहनकर माता रानी की पूजा अर्चना करनी चाहिए। पूजा के बाद भी इन्हीं कपड़ों को पहने रह सकते हैं।

कालरात्रि
नवरात्र के सातवें दिन माता कालरात्रि की पूजा की जाती है। सप्तमी के दिन माता की पूजा नीले रंग के कपड़े पहनकर करना शुभ माना जाता है।

महागौरी
अष्टमी के दिन महागौरी की पूजा की जाती है और इस दिन भक्तों के लिए गुलाबी रंग के कपड़े पहनना शुभ होता है।

सिद्धिदात्री
नवरात्रि के नौवें यानी आखिरी दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा होती है। मां सिद्धिदात्री भक्त को सिद्धि का आशीर्वाद देती हैं। इस दिन बैंगनी रंग के कपड़े पहन कर पूजा करनी चाहिए।

इस तरह पूजा के दौरान विशेष रंग के कपड़ों का चयन कर आप पूजा का अधिक से अधिक लाभ कमा सकते हैं।