व्यापारियों के ऐलान ने भाजपा-संघ की उड़ाई नींद, मनाने के प्रयास शुरु

0
479

 

थुरा। उप्र उद्योग व्यापार मंडल ने भाजपा प्रत्याशी हेमामालिनी की सुरीर में आयोजित जनसभा में भाजपा नेता के भाई द्वारा व्यापारी नेता को जान से मारने की धमकी देने और जनपद में अन्य कई व्यापारियों के साथ हो रही घटनाओं के विरोध में चुनाव बहिष्कार का ऐलान कर दिया है। इससे प्रशासन के साथ-साथ भाजपा और संघ में हड़कंप मच गया है। भाजपा हाईकमान एवं स्थानीय भाजपा नेताओं के साथ संघ द्वारा भी व्यापारियों को समझाने के प्रयास आरंभ हो गए हैं।


उप्र उद्योग व्यापार मंडल की गत दिवस आयोजित एक आवश्यक बैठक में जिलाध्यक्ष शिवशंकर वर्मा ने उपस्थित व्यापारियों को संबोधित करते हुए कहा कि जनपद में व्यापारियों का लगातार उत्पीड़न किया जा रहा है। पुलिस प्रशासन भी व्यापारियों का उत्पीड़न कर रही है। व्यापारियों के खिलाफ फर्जी मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। हाल ही में सुरीर में आयोजित हेमामालिनी की जनसभा के बाद भाजपा नेता देवेंद्र चैधरी के भाई ने उप्र उद्योग व्यापार मंडल के जिला महामंत्री मुकेश वाष्र्णेय को गोली से उड़ाने की धमकी दी थी। इससे पहले सुरीर बिजऊ में व्यापारी गुलशन गुप्ता एवं इनके परिवार के खिलाफ थाना सुरीर में चैथ वसूली का फर्जी मुकदमा दर्ज हुआ था। इसी तरह फरह और कोसीकलां में भी व्यापारी नेताओं के खिलाफ फर्जी मुकदमे दर्ज कराए गए हैं। शिवशंकर वर्मा ने ‘विषबाण’ से बातचीत के दौरान बताया कि व्यापारियों के साथ हो रहे उत्पीड़न के विरोध में बैठक में उपस्थित रहे व्यापारियों ने एकमत से लोकसभा चुनाव बहिष्कार का ऐलान किया है। कहा कि यदि शीघ्र ही पुलिस प्रशासन ने व्यापारियों का सहयोग नहीं किया और फर्जी मुकदमे वापस नहीं लिए गए। तो चुनाव बहिष्कार किया जाएगा। बताया कि चुनाव बहिष्कार की जानकारी मिलते ही
भाजपा नेताओं द्वारा उन्हें समझाने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन जब तक शासन प्रशासन दोषियों के खिलाफ कोई ठोस कदम नहीं उठाएगा। तब तक व्यापारी कोई समझौता करने के पक्ष में नही है। इस संबंध में विचार विमर्श करने के लिए 6 अपै्रल को एक बार फिर बैठक बुलाई गई है। जिसमें आगे की रणनीति की घोषणा की जाएगी।

व्यापार मंडल के सूत्रों की मानें तो भाजपा नेता उप्र व्यापारी कल्याण बोर्ड के चेयरमैन एवं उप्र उद्योग व्यापार मंडल के वरिष्ठ प्रांतीय उपाध्यक्ष रविकांत गर्ग सहित अन्य धर्मार्थ एवं सांस्कृतिक मंत्री लक्ष्मीनारायण भी मामले में समझौता कराने के प्रयास में जुट गए हैं। साथ ही संघ पदाधिकारी भी व्यापारी नेताओं को मनाने के प्रयास कर रहे हैं ताकि व्यापारी नेताओं की नाराजगी को दूर किया जा सके। बैठक में महामंत्री मुकेश वाष्र्णेय, कोसीकलां के पूर्व चेयरमैन भगवत रुहेला, सुनील साहनी, प्रांतीय संगठन मंत्री नंदकिशोर गुसांई, अजय गोयल, हरी बिछोरिया, हरिओम शर्मा, हरिओम अग्रवाल, मदनलाल धाकड़, अशोक बठैनियां, अंकित मालवीय, महामंत्री पीके, युवा व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सौरभ जैन, संजू लाला, गणेश पहलवान, कृष्णा वाष्र्णेय, रामबिहारी वाष्र्णेय, सोहनलाल, विपुल पारीख, अखिलेश मिश्रा सहित अन्य उपस्थित रहे।