बीमा कंपनी चुकाएगी बृज ऑटो की चोरी गई रकम

0
44

मथुरा। उपभोक्ता फोरम ने यूनाइटेड इंडिया कंपनी लिमिटेड को बृज ऑटो की चोरी हुई धनराशि चुकाने के निर्देश दिए हैं। मामले में वर्ष 2012 में बृज ऑटो का रुपयों से भरा बैग, लैपटॉप, डेबिट कार्ड और 32 बोर की पिस्टल चोरी हुई थी। जबकि बृज ऑटो का फर्म की नकद धनराशि को व्यवसाय स्थल से निवास स्थान तक ले जाने का बीमा था। इसके बाद भी बीमा कंपनी ने कुछ दलीलें देकर चोरी गई रकम की भरपाई करने से इंकार कर दिया था। अब फोरम ने रकम के साथ वाद व्यय चुकाने के आदेश जारी किए हैं।
बृज ऑटो के पार्टनर उपेंद्र दत्त शर्मा पुत्र स्व. राम प्रकाश शर्मा निवासी चौकी बाग बहादुर क्षेत्र ने उपभोक्ता फोरम में दायर याचिका में बताया था कि वर्ष 2012 में पांच मई को उसकी फर्म के कर्मचारी 27,81,500 रुपए से भरा बैग, पिस्टल, डेबिट कार्ड और लैपटॉप लेकर जा रहे थे। यह बैग किसी तरह चोरी चला गया था। इसकी एफआईआर चौकी कृष्णानगर में कराई गई थी। मामले में चौकी कृष्णानगर पुलिस ने तीन कर्मचारियों को हिरासत में भी लिया था। साथ ही चोरी गया लैपटॉप भी बरामद किया था। हालांकि रकम बरामद नहीं हो सकी थी। जब फर्म द्वारा बीमा कंपनी के समक्ष क्लेम प्रस्तुत किया तो बीमा कंपनी आपत्तियां लगाते हुए क्लेम को अस्वीकार कर दिया। इसके बाद पीड़ित ने उपभोक्ता फोरम में केस दायर किया। फोरम ने दोनों पक्षों की दलीलें और साक्ष्यों के आधार पर माना कि फर्म बैग में 27,81,500 रुपए होने का कोई प्रमाण उपलब्ध नहीं करा सकी। हालांकि बैग में 7,81,500 रुपए होने के साक्ष्य मिल रहे हैं। इसी आधार पर बीमा कंपनी को 7,81,500 रुपए मय छह प्रतिशत वार्षिक की दर से अदा करने और वाद व्यय के रुप में पांच हजार रुपए देने का आदेश दिया है। यह रकम आदेश जारी होने के 30 दिन के अंदर जारी करनी है।