जलता है जनता का दिल, वापिस लो बिजली के बिल

0
34

मथुरा। ‘‘जलता है जनता का दिल, वापिस लो बिजली का बिल’’ नारों के साथ रालोद ने पोल-खोल अभियान के अन्तिम दिन जिला मुख्यालय सहित क्षेत्रीय विद्युत स्टेशनों पर धरना-प्रदर्शन कर चेतावनी दी अगर विभाग ने जनता का उत्पीड़न बन्द नहीं किया तो अफसरों से डण्डों के साथ निपटा जायेगा।
उ.प्र. विद्युत दरों में जबरदस्त बढ़ोत्तोरी, भ्रष्टाचार को लेकर ‘‘पोल-खोल, धावा बोल’’ अभियान को लेकर राष्ट्रीय लोकदल महानगर इकाई के सैकड़ों कार्यकर्ता वरिष्ट नेता डा० असोक अग्रवाल के नेतृत्व में कैन्ट बिजली घर का घेराव करने पहुंचे जहां प्रदर्शन के दौरान डा० असोक अग्रवाल ने कहा कि बिजली विभाग में भ्रष्टाचार सभी सीमाऐं तोड़ चुका है। जनता पर 260 से 350 गुना अधिक विद्युत बिल वसूला जा रहा है उन्होंने कहा कि अगर तत्काल भ्रष्टाचार पर रोक और मूल्यवृ( पर रोक नहीं लगी तो रालोद अधिकारियों को कार्यालयों में नहीं घुसने देगा। रालोद महानगर अध्यक्ष दिलीप चौधरी ने कहा कि उ.प्र. सरकार किसान विरोधी है जिसे लेकर ये आन्दोलन किया गया है अगर सरकार ने तत्काल फैसला वापिस नहीं लिया तो पुनः रालोद आन्दोलन करेगा। जिलाध्यक्ष कु. नरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में 132 केवी स्टेशन दामोदरपुरा मथुरा पर प्रदर्शन किया गया।
रालोद के वरिष्ट नेता रामरसपाल पौनियां ने उळर्जा मंत्री पर प्रहार करते हुए कहा कि उनका पूरा परिवार दलाली में जुटा हुआ है जिससे जनता का उत्पीड़न हो रहा है। पौनियां ने विद्युत विभाग के अफसरों को चेतावनी देते हुऐ कहा कि वह जनता का उत्पीड़न करना बन्द करें अन्यथा उनसे झण्डे के साथ डण्डे से भी सबक सिखाया जायेगा।
पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अनूप चौधरी ने कहा कि अगर बढ़ी हुई विद्युत दरों को वापिस नहीं किया गया, भ्रष्ट
अधिकारियों ने जनता का उत्पीड़न बन्द नहीं किया तो रालोद उळर्जामंत्री को जनपद में और अफसरों को कार्यालय में नहीं घुसने देगा। इसके अलावा यदुवीर सिंह सिसौदिया, गौरव मलिक, उदयभान सिंह, वीरपाल भरंगर, अमित चौधरी, अरविन्द पचहरा, ओमप्रकाश चौटाला, विश्वेन्द्र सिंह, पवन चतुर्वेदी, दिलीप जैन, पवन चतुर्वेदी आदि ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर राज्यपाल के नाम 6 सूत्रीय मांग पत्र विद्युत अधिकारियों को दिया। धरना की अध्यक्षता महानगर अध्यक्ष दिलीप चौधरी संचालन रविन्द्र नरवार ने किया।
नौहझील विद्युत स्टेशन पर भी ‘‘पोल-खोल, धावा बोल’’ अभियान के तहत रालोद कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। पूर्व जिलापंचायत सदस्य देवराज सिंह चौधरी, योगेश नौहवार, सुधीर सिंह प्रधान, कृपाल सिंह फौजदार, बनवारी प्रधान मुसमुना, भगवती प्रसाद सिंह चेयरमैन, जीवन सिंह प्रधान, रज्जो प्रधान, सतवीर सिंह, नरेन्द्र चौधरी, शोभित चौधरी आदि ने धरने को सम्बोधित करते हुऐ कहा कि अगर उ.प्र. सरकार ने विद्युत की बढ़ी हुई दरों को वापिस नहीं लिया, जनता के उत्पीड़न पर रोक नहीं लगाई तो रालोद सड़कों पर उतरकर सरकार और अफसरों की नींद हराम कर देगा। इस अवसर पर राज्यपाल के नाम एसडीएम मांट राजेन्द्र सिंह पोनियां, एसडीओ मांट को ज्ञापन दिया।