अपनी बदहाली पर आंसू बहाता ग्राम पंचायत शेरनी नगरिया 

0
125
ग्रामीणों  ने ग्राम प्रधान पर लगाए गंभीर आरोप ग्राम प्रधान गांव में नही रहता है  मथुरा के विकासखण्ड  राया के गांव नगला शेरनी मैं  आज ग्रामीणों  ने गांव की समस्याओं को देखते हुए प्रधान द्वारा कई माह से उसका समाधान ना होने पर आज ग्राम प्रधान के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया और अपनी समस्याओं से वहां पहुंचे मीडिया कर्मियों को अवगत कराया सैकड़ों की संख्या में मौजूद ग्रामीणों ने बताया की ग्राम प्रधान लक्ष्मी देवी ने गांव में आज तक कुछ भी विकास नहीं किया है और जो किया है वह कागजों तक ही सिमट कर रह गया प्रधानमंत्री ग्राम स्वच्छ भारत अभियान के तहत गांव में बने शौचालयों के नाम पर भी ग्राम प्रधान ने जमकर फर्जीवाड़ा किया है सेक्रेटरी और ग्राम प्रधान ने मिलकर ठेके पर शौचालयों की डमी खड़ी कर दी है और खरीदी वही ग्रामीणों ने बताया फर्जी दस्तावेज तैयार कराकर  एक खरंजे को तीन-तीन बार बनवा दिए गए हैं इतना ही नहीं गांव के प्राथमिक विद्यालय में जब देखा गया तो प्रधान के भाई का प्राथमिक पाठशाला के एक कमरे में भूसा भरा हुआ था तो वही न्याय पंचायत के एक कमरे में एक साधु को रखा है स्कूल की स्थिति भी काफी दयनीय है देखने पर स्कूल पोखर में है या पोखर में स्कूल है मालूम नहीं पड़ता है पोखर में गंदगी की वजह से बच्चे संक्रमण की चपेट में आने की संभावना से ग्रामीणों में भय व्यप्त है ऐसी ही अनेक समस्याओं से ग्रसित हैं ग्राम नगला शेरनी ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि नरेगा के पैसों को भी प्रधान डकार गया है ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम प्रधान जीतने के बाद से आज तक ग्राम में नहीं आई है तो वही ग्रामीणों ने बताया कागजो पर साइन कराने के लिए भी उसके आवास मथुरा जाना पड़ता है इसलिए आज ग्राम वासियों ने ग्राम प्रधान लक्ष्मी देवी के खिलाफ जमकर रोष व्यक्त किया और ग्राम प्रधान के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए वही ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान पर एक गंभीर आरोप लगाया जिसके उन्होंने कुछ साक्षी भी मीडिया कर्मियों को दिखाएं ग्राम वासियों ने बताया कि ग्राम प्रधान लक्ष्मी देवी वाइफ ऑफ लालता प्रसाद मौजूदा प्रधान है जबकि मथुरा में वह भगवती भगवती देवी वाइफ ऑफ लालता प्रसाद के नाम से रह रही है ओर ग्राम प्रधान लक्ष्मी देवी के बैंक खातों के बारे में जानकारी देते हुए ग्रामीणों ने बताया प्रधान लक्ष्मी देवी है और बैंक खाते भगवती देवी के नाम से ही दो नंबर की प्रॉपर्टी एकत्र कर मथुरा ही रही है जिसकी लिखित शिकायत ग्रामीणों ने  जिलाधिकारी सहित उच्चाधिकारियों को अवगत कराया है वही ग्राम प्रधान से जब इस बारे में जानकारी चाही तो उनसे संपर्क नही हो पाया  शिकायत कर्ताओ में  दिगंबर सिंह सुखबीर सिंह बलवीर सिंह श्याम सुंदर मलखान सिंह बनवारीलाल देवेंद्र सिंह रामू सिंह वनी देवी केशव देव प्रेम देवी खेम सिंह आदि सैकड़ों ग्रामीण प्रमुख रूप से मौजूद रहे.