न्यू रंगेश्वर पैथौलॉजी देगी उपभोक्ता को 10 हजार की क्षतिपूर्ति

0
142

मथुरा। शहर की प्रमुख न्यू रंगेश्वर पेथौलोजी सेन्टर द्वारा मरीज की गलत रिपोर्ट दिये जाने पर उपभोक्ता फोरम ने पीड़ित को 10 हजार रुपये क्षतिपूर्ति एवं तीन हजार वाद व्यय के रूप में 30 दिन के अन्दर पैथोलोजी संचालक को अदा करने के आदेश दिये हैं।
चिकित्सा के नाम पर मरीजों की जिन्दगी से जांच रिपोर्ट के बहाने किस तरह खिलवाड़ किया जा रहा है इसका खुलासा उपभोक्ता फोरम के निर्णय में हुआ है। जिसमें शिवाकान्त चतुर्वेदी पुत्र असोक चतुर्वेदी ;23 वर्षद्ध निवासी गली परिपंच होलीगेट मथुरा ने डॉ. एम.के. गुप्ता न्यू रंगेश्वर पैथोलोजी सेन्टर सेठबाड़ा मथुरा से अपनी खून की जांच कराई। जिसकी जांच रिपेर्ट में मलेरिया दर्शाया गया। रिपोर्ट पर सन्देह होने पर दूसरी जांच लाल जी साईंटिफिक पैथोलोजी सौंख अड्डा मथुरा से कराई गई।
जिसमें रिपोर्ट नेगेटिव दर्शाई गई। रिपोर्ट में विरोधाभास होने पर तीसरी जांच रंगेश्वर पैथोलोजी कृष्णा नगर मथुरा से कराई गई। जिसमें भी रिपोर्ट नेगेटिव पायी गई। इसे लेकर उपभोक्ता फोरम में पीड़ित ने परिवाद दर्ज कराया। जिसमें फोरम अध्यक्ष योगेन्द्र सिंह, सदस्य सूफिया असरफ ने मामले की सुनवाई की। सुनवाई के दौरान न्यू रंगेश्वर पैथोलोजी की रिपोर्ट को सही ठहराने का प्रयास किया। लेकिन फोरम ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद जांच रिपोर्ट को गलत मानते हुए पैथोलोजी संचालक डा. एम.के. गुप्ता पर 10 हजार रूपये क्षतिपूर्ति तथा तीन हजार रूपये वाद व्यय के रूप में 30 दिन के अन्दर अदा करने के आदेश दिये हैं।
दूसरी तरफ पैथोलोजी संचालक डॉ. एम.के. गुप्ता ने ‘विषबाण’ से कहा कि फोरम के निर्णय पर उन्होंने स्टे ले लिया है। जब उनसे स्टे की प्रति उपलब्ध कराने के लिये कहा तो उन्होंने स्टे की प्रति देने से इंकार कर दिया। और कुछ भी जानकारी देने से मना कर दिया।